Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेक: प्रधानमंत्री की सुल्तानपुर रैली में कांग्रेस कार्यकर्ता रीता यादव की हत्या की झूठी खबर वायरल

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की सुल्तानपुर रैली में कांग्रेस कार्यकर्ता रीता यादव की गोली मारकर हत्या कर देने की खबर कई सोशल प्लेटफॉर्म पर वायरल हो रही है।

बता दें कि रीता यादव हाल ही में कांग्रेस पार्टी में शामिल हुई। रीता यादव तब सुर्खियों में आईं थी जब उन्होंने सुल्तानपुर रैली में पीएम मोदी को काला झंडा दिखाया था।

 

रानी प्रोफाइल
कांग्रेस कार्यकर्ता
Tweet

 

यह भी पढ़े:  बिक्रम सिंह मजीठिया पर आज तक और ZeeNews का दावा सही है?

फैक्ट चेक

वायरल ट्वीट की पड़ताल करने पर हमारी टीम ने पाया कि रीता यादव ने पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के उद्घाटन के दौरान सुल्तानपुर की अपनी यात्रा पर पीएम नरेंद्र मोदी को काला झंडा दिखाया था। इस दुर्व्यवहार के लिए उन्हे 16 नवंबर को गिरफ्तार किया गया था।

सोमवार को जब वह लंभुआ में निर्माणाधीन लखनऊ-वनारसी फोर-लेन की यात्रा कर रही थी, तो दो अज्ञात लोगों ने मोटरसाइकिल पर आकर पहले उनकी कार को किनारे किया और फिर फायरिंग शुरू कर दी। इस दौरान उनके दाहिने पैर में गोली लगी और उन्हे अस्पताल में भर्ती कराया गया।

द इंडियन एक्सप्रेस के लेख के अनुसार, रितु यादव बिल्कुल ठीक हैं और खतरे से बाहर हैं।

निष्कर्ष: कांग्रेस कार्यकर्ता रीता यादव की हत्या की खबर फर्जी और भ्रामक है।