Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

जानिए सीताराम येचुरी के मिस्टर शी को अपना बॉस बताने वाले ट्वीट के पीछे का सच

फोटोशॉप तस्वीरों के साथ झूठे आरोपों का दावा करने का एक कारगर हथियार बन गया है। आपने सोशल मीडिया पर फोटोशॉप की मदद से किए गए ऐसे कई फर्जीवाड़े देखे होंगे।

हाल ही में कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी सीताराम येचुरी का एक कथित ट्वीट सामने आया है। जिसमे वह चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से हाथ मिलाते हुए दिखाई दे रहे हैं। ट्वीट के केप्शन में लिखा है, मेरे लिए अपने बॉस से मिलना खुशी की बात है”।

Facebook post

फैक्ट चेक:

पोस्ट का समय

जैसा कि हम ट्वीट में देख सकते हैं, ट्वीट की तारीख 20 अक्टूबर 2015 दर्शाई गई है, हालांकि सीताराम येचुरी 27 अक्टूबर, 2015 को ट्विटर से जुड़े।

येचुरी की प्रोफाइल

वहीं भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी सीपीआई (एम), ने भी इस फर्जी ट्वीट के बारे में स्पष्टीकरण दिया और इसे गलत साबित कर दिया। उन्होंने परोक्ष रूप से जालसाजी फैलाने के लिए मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराया है।

इसके अलावा ट्वीट के साथ की तस्वीर 2015 की है जब येचुरी एशियाई राजनीतिक दलों के एक अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में भाग लेने के लिए चीन की राजधानी गए थे। जिसकी पुष्टि The Hindu के लेख से होती है।

हिन्दू का लेख

अत: उपरोक्त ट्वीट फेक और भ्रामक पाया गया है।