Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट-चेक: क्या दिल्ली में रॉ, मोसाद, CIA, MI-6 और KGB एक उच्च स्तरीय बैठक हुई थी?

15 सितंबर 2021 को फेसबुक और ट्विटर पर कई यूजर्स द्वारा एक सम्मेलन की एक तस्वीर पोस्ट की जाने लगी। यूजर्स द्वारा दावा किया गया था कि यह बैठक दुनिया की ‘शीर्ष पांच’ खुफिया एजेंसियों के बीच हो रही थी। जिसमें भारत की खूफिया एजेंसी रॉ, इज़राइल की मोसाद, अमेरिकी की सीआईए, ग्रेट ब्रिटेन की एमआई-6 और रूस की खूफिया एजेंसी केजीबी के अधिकारियों के बीच हो रही है। यूजर्स का यह भी दावा था कि इतिहास में यह पहली बार हो रहा है कि जब पांच प्रमुख देशों की खुफिया एजेंसियां एकसाथ बैठक कर रही हैं, वो भी भारत की राजधानी नई दिल्ली में।

फेसबुक पर पोस्ट

फैक्ट चेकः

अधिकारियों के बैठक की वायरल हो रहे इस फोटो की जांच के लिए हमारी टीम ने रिसर्च की। इस तस्वीर को गूगल पर सर्च करने के बाद इसकी सच्चाई का पता चला। दरअसल इस तस्वीर को पहली बार 8 सितंबर 2021 को पोस्ट किया गया था। यह तस्वीर अफगानिस्तान क्राइसिस पर भारत और रूस के एक डेलीगेशन के बैठक की है। इस तस्वीर को भारत सहित दुनिया की कई सारे मीडिया घरानों ने इस खबर के साथ छापा है।

इस तथ्य की जांच से यह साबित होता है कि यह फोटो भारत और रूस के एक आधिकारिक डेलीगेशन की बैठक की है, ना कि भारत सहित 5 देशों की खुफिया एजेंसियों के बीच की बैठक है। इसलिए सोशल मीडिया पर किया जा रहा दावा पूरी तरह से झूठा और भ्रामक है।