Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेकः क्या PM मोदी की रैली में BJP नेताओं में हुई जमकर मारपीट?

सोशल मीडिया के सभी प्लेटफॉर्म्स पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। इस वीडियो को शेयर करने वाले यूजर्स दावा कर रहे हैं कि पीएम नरेंद्र मोदी की मेरठ रैली में मंच पर भाजपा के नेता भीड़ गए। उनके बीच जमकर मारपीट भी हुई। इस वीडियो में मंच के पीछे बीजेपी का पोस्टर लगा दिख रहा है।

इस वीडियो को फेसबुक और ट्वीटर पर जमकर वायरल किया जा रहा है। सोशल मीडिया के यूजर्स मजाक उड़ाते हुए लिख रहे हैं कि पीएम मोदी की मेरठ रैली में बीजेपी नेताओं ने आपस में खूब प्यार बांटा। वहीं कुछ लोगों ने इसे बीजेपी की हताशा और निराशा बता रहे हैं।

Twitter Post

फैक्ट चेकः

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो की सत्यता की जांच के लिए हमने वीडियो के कुछ फ्रेम्स को रिवर्स सर्च किया। इस दौरान हमें यूट्यूब पर एक वीडियो मिला। यह वीडियो 10 अक्टूबर 2021 को अपलोड किया गया था। इस वीडियो में मंच पर मारपीट करने का वही दृश्य था, जो सोशल मीडिया के यूजर्स शेयर कर रहे हैं।

इस वीडियो को आकिब अब्बास नाम के यूजर ने अपलोड किया था। हालांकि वीडियो को कैप्शन दिया गया था- “हरियाणा में किसान भाइयों ने खट्टर का जन कार्यक्रम तोड़ फोड़ करके रद्द किया।” इस वीडियो से हमें एक लीड यह मिली कि यह तोड़-फोड़ हरियाणा के सीएम खट्टर की एक जनसभा में किसानों द्वारा की जा गई है।

जिसके बाद हमने गूगल पर “सीएम खट्टर की जनसभा में किसानों की तोड़-फोड़” सर्च किया। यहां हमें कई न्यूज वेबसाइट्स पर प्रकाशित समाचार मिले। 10 जनवरी 2021 को प्रकाशित इन समाचारों के मुताबिक करनाल में सीएम खट्टर का किसान जनसंवाद कार्यक्रम होना था, जिसमें वह किसानों को 3 कृषि कानूनों के फायदे बताने वाले थे। लेकिन इस कार्यक्रम में प्रदर्शनकारी किसान पहुंच गए और उन्होंने मंच पर जमकर तोड़-फोड़ की। जिससे खट्टर का कार्यक्रम रद्द करना पड़ा।

Aaj Tak’s article
NBT article

निष्कर्षः

हमारी पड़ताल में ये सामने आया कि ये वीडियो हाल ही में मेरठ में हुई प्रधानमंत्री मोदी की रैली में तोड़-फोड़ का नहीं है। यह वीडियो हरियाणा के करनाल का है, जो एक साल पुराना है। वहीं मेरठ की रैली में कोई तोड़-फोड़ नहीं हुई थी। इसलिए सोशल मीडिया यूजर्स द्वारा जा रहा दावा झूठा और भ्रामक है।