Digital Forensic, Research and Analytics Center

गुरूवार, अगस्त 11, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
होमFact Checkफैक्ट-चेक: टोल बूथ को लेकर वायरल हो रही अख़बार की क्लिप का...

फैक्ट-चेक: टोल बूथ को लेकर वायरल हो रही अख़बार की क्लिप का सच

Published on

Subscribe us

सोशल मीडिया पर अखबार की एक क्लिप शेयर कर दावा किया जा रहा है कि टोल बूथ पर 12 घंटे की पर्ची मांगकर 12 घंटे तक बिना टोल टैक्स दिए यात्रा की जा सकती है।

टोल टैक्स भारत सरकार द्वारा लिया जाने वाला एक ऐसा कर है जिसे आमदनी या निवास स्थान के इतर सड़क पर चलने वाले हर वाहन चालक को देना पड़ता है। Passenger Car Unit (PCU) की श्रेणी में आने वाले वाहनों के लिए टोल टैक्स नही देना पड़ता है। हालांकि इंडियन नेशनल हाईवे अथॉरटीज इस संबंध मे समय-समय पर बदलाव करता रहता है।

अब सोशल मीडिया पर महत्वपूर्ण जानकारी बताकर अख़बार की एक क्लिप शेयर दावा किया जा रहा है कि टोल बूथ पर 12 घंटे की पर्ची मांगकर 12 घंटे तक बिना टोल टैक्स दिए यात्रा की जा सकती है।

फैक्ट चेक

टोल बूथ पर 12 घंटे की पर्ची मांगकर 12 घंटे तक बिना टोल टैक्स दिए यात्रा किये जाने संबंधी दावे के साथ शेयर की जा रही अखबार की इस क्लिप को हमने गूगल पर सर्च किया. लेकिन इस बाबत हमें कोई ठोस जानकारी प्राप्त नहीं हुई।

इसके बाद हमने “टोल बूथ पर 12 घंटे की पर्ची मांगकर 12 घंटे तक बिना टोल टैक्स दिए यात्रा की जा सकती है” कीवर्ड्स को गूगल पर सर्च किया। इस पर हमें दैनिक भास्कर, अमर उजाला समेत कई अन्य मीडिया पोर्टल्स द्वारा प्रकाशित रिपोर्टस के माध्यम से यह जानकारी मिली कि वायरल किया जा रहा दावा गलत है, क्योंकि जैसे ही कोई शख्स टोल बूथ पार करता है वैसे ही टोल पर्ची की वैधता समाप्त हो जाती है. इसके साथ ही हमें यह जानकारी भी मिली कि वायरल दावा पिछले कई सालों से शेयर किया जा रहा है।

इसके बाद हमें अमर उजाला के 28 दिसंबर 2018 में प्रकाशित लेख में हमें Ministry of Road Transport and Highways, में 2018 को शेयर किया गया एक ट्वीट प्राप्त हुआ. जिसमे वायरल दावे को गलत बताते हुए स्पष्टीकरण जारी किया गया है।

इसलिये हम इस नतीजे पर पहुंचे, कि सोशल मीडिया पर अख़बार की क्लिप को आधार बनाकर किया जाने वाला दावा फर्जी है, जिसका सच्चाई से कोई लेना-देना नहीं है।

- Advertisement -

‘हर-हर शंभू’ भजन की गायिका फरमानी नाज अपनाएंगी हिन्दू धर्म?

Load More

Popular of this week

Latest articles

फैक्ट चेक: इंडिया गेट पर 61,945 मुस्लिम शहीदों के लिखे हैं नाम, एक भी संघी नहीं?

इंटरनेट पर एक दावा वायरल हो रहा है जिसमें लोग भारत के स्वतंत्रता संग्राम...

फैक्ट चेक: बिहार में बांग्लादेशी और रोहिंग्याओं से भरी ट्रेन के आने का जानिए सच्चाई

बिहार में भाजपा और जेडीयू का गठबंधन टूटने के बाद एक बार फिर से...

फैक्ट चेक: जामा मस्जिद पर दिल्ली पर्यटन विभाग ने किया ग़लत दावा

आम भारतीय जनमानस में ये बात क़ायदे से बैठ गई है कि दिल्ली की...

फैक्ट चेक: गाज़ा पर इस्राइल के हमले के बीच 2018 की तस्वीर वायरल

पिछले तीन दिनों से इस्राइल की गाज़ापट्टी पर भीषण बमबारी जारी है। इस हमले...

all time popular

More like this

फैक्ट चेक: इंडिया गेट पर 61,945 मुस्लिम शहीदों के लिखे हैं नाम, एक भी संघी नहीं?

इंटरनेट पर एक दावा वायरल हो रहा है जिसमें लोग भारत के स्वतंत्रता संग्राम...

फैक्ट चेक: बिहार में बांग्लादेशी और रोहिंग्याओं से भरी ट्रेन के आने का जानिए सच्चाई

बिहार में भाजपा और जेडीयू का गठबंधन टूटने के बाद एक बार फिर से...

फैक्ट चेक: जामा मस्जिद पर दिल्ली पर्यटन विभाग ने किया ग़लत दावा

आम भारतीय जनमानस में ये बात क़ायदे से बैठ गई है कि दिल्ली की...

फैक्ट चेक: गाज़ा पर इस्राइल के हमले के बीच 2018 की तस्वीर वायरल

पिछले तीन दिनों से इस्राइल की गाज़ापट्टी पर भीषण बमबारी जारी है। इस हमले...

फैक्ट चेकः नीतीश कुमार ने आतंकी इशरत जहां को बताया था अपनी बेटी? 

बिहार का राजनीतिक माहौल गर्म है। नीतीश कुमार क्या करेंगे उसको लेकर सिर्फ कयासबाजी...

फैक्ट चेकः जवाहर लाल नेहरू ने खुद को दुर्भाग्य से हिन्दू और संस्कृति से मुस्लिम कहा था?

सोशल मीडिया पर भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू को लेकर एक दावा...