Digital Forensic, Research and Analytics Center

सोमवार, जून 27, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
होमFact Checkअग्निपथ योजना पर रक्षा मंत्रालय के वायरल पत्र के पीछे की सच्चाई-...

अग्निपथ योजना पर रक्षा मंत्रालय के वायरल पत्र के पीछे की सच्चाई- फैक्ट चेक पढ़ें।

Published on

Subscribe us

सरकार द्वारा हाल ही में शुरू की गई अग्निपथ योजना के बीच खबरे फेल री है, कुछ वास्तविक दावों के साथ अन्य झूठे दावों के साथ।

इसी तरह, रक्षा मंत्रालय की ओर से सोशल मीडिया पर एक पत्र वायरल हो रहा है, जिसमें लिखा है, “मुझे इस मंत्रालय के पत्र नं. एफ.सं. 9 (11/2027/एफ दिनांक 17 जून 2022, ऊपर दिए गए विषय पर और यह कहना कि ओआरएस को 01 जनवरी 2013 के बाद सत्यापित किया गया और 01 जुलाई 2022 को नाइक के मूल रैंक या समकक्ष में पदोन्नत नहीं किया गया, को नए के तहत रखा जाना है। अग्निपथ योजना…”(Translates English)

पत्र में दावा किया जा रहा है कि, रक्षा मंत्रालय ने 1 जनवरी, 2019 के बाद सत्यापित अन्य रैंकों (ओआरएस) के तहत कर्मियों को आदेश दिया है, और 1 जुलाई, 2022 तक नाइक या समकक्ष के एक वास्तविक रैंक पर पदोन्नत नहीं किया जाना है। अग्निपथ योजना के तहत रखा गया है।

कई अन्य लोगों ने भी वायरल पत्र को अलग-अलग कैप्शन के साथ साझा किया।

फैक्ट चेक:

रक्षा मंत्रालय से वायरल पत्र की प्रामाणिकता की जांच करने के लिए, हमने आधिकारिक रक्षा मंत्रालय की वेबसाइट पर पत्र की खोज की और वेबसाइट पर ऐसा कोई पत्र नहीं मिला।

निष्कर्ष:

आधिकारिक रक्षा मंत्रालय की साइट पर इस तरह के पत्र का कोई संकेत नहीं होने से, यह स्पष्ट है कि पत्र भ्रामक दावे के साथ वायरल हो रहा है।

Claim Review: रक्षा मंत्रालय ने 1 जनवरी, 2019 के बाद अनुप्रमाणित अन्य रैंक (ओआरएस) के तहत कर्मियों को आदेश दिया है, और 1 जुलाई, 2022 तक नाइक के मूल रैंक या समकक्ष में पदोन्नत नहीं किए गए कर्मियों को अग्निपथ योजना के तहत रखा जाना है।

Claimed by: सोशल मीडिया उपयोगकर्ता।

फैक्ट चेक: फर्जी

Popular of this week

Latest articles

फैक्ट चेक: मरमेड के वायरल वीडियो के पीछे की सच्चाई क्या है?

मरमेड का एक वीडियो सोशल मीडिया साइट्स पर खूब शेयर किया जा रहा है।...

फैक्ट चेकः कोड़े की मार खाते यह तस्वीर भगत सिंह की नहीं है, भ्रामक दावा हो रहा वायरल

सोशल मीडिया पर फोटो वायरल हो रही है। यह फोटो ब्लैक एंड व्हाइट है।...

उद्धव ठाकरे ने मुगल बादशाह औरंगजेब की तारीफ की?, पढ़ें- फैक्ट चेक

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का एक वीडियो सोशल मीडिया साइट्स पर वायरल हो...

all time popular

More like this

फैक्ट चेक: मरमेड के वायरल वीडियो के पीछे की सच्चाई क्या है?

मरमेड का एक वीडियो सोशल मीडिया साइट्स पर खूब शेयर किया जा रहा है।...

फैक्ट चेकः कोड़े की मार खाते यह तस्वीर भगत सिंह की नहीं है, भ्रामक दावा हो रहा वायरल

सोशल मीडिया पर फोटो वायरल हो रही है। यह फोटो ब्लैक एंड व्हाइट है।...

उद्धव ठाकरे ने मुगल बादशाह औरंगजेब की तारीफ की?, पढ़ें- फैक्ट चेक

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे का एक वीडियो सोशल मीडिया साइट्स पर वायरल हो...

फ़ैक्ट चेक: बाल ठाकरे की आनंद दिघे को तिलक लगाने वाली तस्वीर एकनाथ शिंदे की बताकर वायरल

महाराष्ट्र में सियासी उथल पुथल मची हुई है। शिवसेना नेता एकनाथ शिंदे के नेतृत्व...

महाराष्ट्र में शिवसेना और NCP कार्यकर्ताओं के बीच हुई हाथापाई और मारपीट?, पढ़ें- फैक्ट चेक

महाराष्ट्र में शिवसेना अपने विधायकों की बगावत से जूझ रही है। पार्टी के कई...