Digital Forensic, Research and Analytics Center

मंगलवार, जनवरी 31, 2023
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
होमFact Checkफैक्ट चेकः क्या इमरान खान के समर्थन में तुर्की में हुआ प्रदर्शन

फैक्ट चेकः क्या इमरान खान के समर्थन में तुर्की में हुआ प्रदर्शन

Published on

Subscribe us

पाकिस्तान के नए प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ बने है। पाकिस्तान की नेशनल एसेंबली में इमरान खान के खिलाफ आए अविश्वास प्रस्ताव में विपक्षी दलों की जीत हुई थी। जिसके बाद इमरान खान को प्रधानमंत्री पद से हटना पड़ा था। पाकिस्तान के इस सियासी घटना की पूरी दुनिया में चर्चा रही। सोशल मीडिया से लेकर मेनस्ट्रीम मीडिया तक पाकिस्तान चर्चा का विषय रहा।

सोशल मीडिया पर इस सियासी घटनाक्रम की खूब चर्चा हुई। कई लोगों ने इस मामले पर फेक और भ्रामक न्यूज भी जमकर फैलाए। @russia_urdu नाम के एक यूजर ने एक विरोध प्रदर्शन की तस्वीर पोस्ट की। जिसमें उन्होंने दावा किया कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने हाल ही में तुर्की में सत्ता परिवर्तन का समर्थन करने वाले विपक्षी दलों का एक वीडियो जारी किया, जिस पर तुर्की ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने पाकिस्तान के पूर्व पीएम इमरान खान की तस्वीर और पाकिस्तान का झंडा भी साथ में रखा था।

https://twitter.com/russia_urdu/status/1511552744200577028?s=20&t=CC52xNoCsMVbol_A7HiK3g

कई अन्य यूजर्स ने भी वही तस्वीर शेयर की, जहां लोग इमरान खान की तस्वीर पकड़े हुए हैं और दूसरी पोस्टर में किसी देश के निजी मामले में दूसरे देशों के हस्तक्षेप न करने की अपील लिखी है।

फैक्ट चेकः

वायरल हो रहे इस तस्वीर को क्रॉस-चेक करने के बाद हमें समाचार एजेंसी एएफपी पर वही तस्वीर मिली। यह तस्वीर 15 जून 2017 की है जब तुर्की के नागरिक इस्तांबुल में अपने एक सांसद की कैद का विरोध कर रहे थे।

तस्वीर को देखने के बाद हम यह निष्कर्ष निकाल सकते हैं कि तुर्की में एक विरोध प्रदर्शन की यह पुरानी तस्वीर है। इस तस्वीर को एडिट करके इसमें पाकिस्तान का झंडा और पूर्व पीएम इमरान खान की फोटो लगा दी गई थी। इसलिए सोशल मीडिया यूजर्स द्वारा किया जा रहा दावा भ्रामक है।

दावा- इमरान खान के समर्थन में तुर्की में हुआ प्रदर्शन

दावाकर्ता @russia_urdu

फैक्ट चेक- भ्रामक

 

- Advertisement -[automatic_youtube_gallery type="channel" channel="UCY5tRnems_sRCwmqj_eyxpg" thumb_title="0" thumb_excerpt="0" player_description="0"]
DFRAC Editor
DFRAC Editorhttps://dfrac.org
Digital Forensics, Research and Analytics Centre (DFRAC) is a non-partisan and independent media organisation which focuses on fact-checking and identifying hate speech. With the popularisation of the internet came the challenge of information overload and often times, our feeds are overpopulated with conflicting, incendiary and false information which is increasingly becoming difficult to ignore and not believe in

Popular of this week

Latest articles

फैक्ट चेक: क्या हिन्दू सांसद ने पाक संसद में हाथ जोड़ कहा – हम पर रहम करो, हमारी बेटियों को बख्श दो?

सोशल मीडिया पर पाकिस्तान का एक वीडियो बड़ा वायरल हो रहा है। जिसमे एक...

Edited picture of police guarding the Cinema theatre featuring Pathaan film goes viral. Read Fact Check

A picture is getting viral on social media sites. It can be seen in...

फै़क्ट चेक: राजस्थान के भरतपुर वायुसेनाविमान क्रैश का वीडियो मुरैना का बताकर वायरल 

मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में शनिवार की सुबह भारतीय वायुसेना के दो लड़ाकू विमान...

सरस्वती पूजा के दौरान “अंकित” की शहादत और सोनू मियां ने की हत्या? पढ़ें- फैक्ट चेक 

सोशल मीडिया पर बिहार के गोपालगंज की एक घटना के संदर्भ में कई दावे...

all time popular

More like this

फैक्ट चेक: क्या हिन्दू सांसद ने पाक संसद में हाथ जोड़ कहा – हम पर रहम करो, हमारी बेटियों को बख्श दो?

सोशल मीडिया पर पाकिस्तान का एक वीडियो बड़ा वायरल हो रहा है। जिसमे एक...

Edited picture of police guarding the Cinema theatre featuring Pathaan film goes viral. Read Fact Check

A picture is getting viral on social media sites. It can be seen in...

फै़क्ट चेक: राजस्थान के भरतपुर वायुसेनाविमान क्रैश का वीडियो मुरैना का बताकर वायरल 

मध्यप्रदेश के मुरैना जिले में शनिवार की सुबह भारतीय वायुसेना के दो लड़ाकू विमान...

सरस्वती पूजा के दौरान “अंकित” की शहादत और सोनू मियां ने की हत्या? पढ़ें- फैक्ट चेक 

सोशल मीडिया पर बिहार के गोपालगंज की एक घटना के संदर्भ में कई दावे...

राहुल गांधी ने कहा- केंद्र की सत्ता में आने पर धारा-370 बहाल करेंगे? पढ़ें- फैक्ट चेक 

सोशल मीडिया पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी को लेकर एक दावा वायरल हो रहा...

DFRAC विशेषः सुदर्शन न्यूज का पत्रकार है भ्रामक सूचनाओं का ‘सागर’ 

जर्मनी में हिटलर के मंत्री जोसेफ गोएबल्स के बारे कहा जाता है कि वह...