Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेक: खलिस्तान समर्थकों की बाइक रैली का पीएम मोदी के पंजाब दौरे से नहीं कोई सबंध

5 जनवरी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पंजाब दौरे के दौरान सुरक्षा व्यवस्था में हुई चूक के मामले के बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो बड़े पैमाने पर वायरल हो रहा है। जिसमे कुछ सिख बाइकर्स को ” खलिस्तान जिंदाबाद” के नारे लगाते हुए देखा जा सकता है।

इस वीडियो को शेयर करते हुए एक यूजर ने ट्वीट किया कि “कल खलिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने वालों को कांग्रेस सरकार ने गिरफ्तार क्यों नहीं किया? #PresidentRuleInPunjab”।

फैक्ट चेक:

वायरल वीडियो की जांच करने पर हमारी टीम ने पाया कि यह वीडियो 26 दिसंबर, 2021 का है, जब पंजाब के सरहिंद में “छोटे साहिबजादे” (गुरु गोबिंद सिंह के पुत्र) की याद में एक मोटरसाइकिल रैली निकाली गई थी।

 

 

 

 

जांच में टीम ने पाया कि फेसबुक और ट्विटर पर इस तरह के कई वीडियो मौजूद है। जो फतेहगढ़ में शहीदी जोर मेले के अवसर पर आयोजित “केसरी मार्च” से संबंधित है  शहीदी जोर मेला हर साल 25-27 दिसंबर तक गुरु गोबिंद सिंह के पुत्रों बाबा जोरावर सिंह और बाबा फतेह सिंह की याद में आयोजित किया जाता है।

अत: स्पष्ट है कि उपरोक्त वायरल वीडियो का सबंध पीएम मोदी के हालिया पंजाब दौरे से कोई सबंध नहीं है। वीडियो को भ्रामक दावे के साथ शेयर करना पाया गया है।