Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेक: जानिए मुस्लिमों द्वारा हिंदुओं को नपुंसक बनाने के लिए बिरियानी में दवा मिलाने की सच्चाई

सोशल मीडिया पर मुस्लिमों द्वारा हिंदुओं को नपुंसक बनाने के लिए बिरियानी में दवा मिलाने की एक बड़ी  पोस्ट वायरल ही रही है। जिसमे दावा किया गया कि हिंदुओं की जनसंख्या वृद्धि को रोकने के लिए ऐसा किया जा रहा है।

हिंदुओं को नपुंसक बनाने के लिए बिरियानी
हिंदुओं को नपुंसक बनाने के लिए बिरियानी

एक यूजर ने अपने ट्वीट में लिखा कि ‘कोयम्बटूर में “माशा अल्लाह” नाम से फ़ास्ट फ़ूड बेचने वाला मुल्ला 2 बर्तनों में बिरियानी पकाता था। एक मुस्लिमों के लिए और एक हिन्दुओं के लिए। हिन्दुओं के बर्तन में लड़के व लड़कियों को नपुंसक बनाने की टेबलेट मिलाता था ताकि हिन्दुओं की जनसंख्या वृद्धि को रोका जा सके continue..’

यह भी पढ़े: कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी पर सोशल मीडिया पर फैले सांप्रदायिकता का विश्लेषण

फैक्ट चेक:

हिंदुओं को नपुंसक बनाने के लिए बिरियानी

उपरोक्त दावे की पड़ताल करने पर हमारी टीम ने पाया कि तस्वीर में दिखाई दे रहे युवकों को यूपी की बिजनौर पुलिस ने मदरसे में अवैध शस्त्रों की तस्करी करते हुए गिरफ्तार किया था। साथ ही उनसे 01 पिस्टल, 04 तमंचे व भारी मात्रा में कारतूसों की भी बरामदगी की थी।

यह भी पढ़े: कश्मीर पर पाकिस्तान के नफरती एजेंडे का खुलासा, पढ़े- EXCLUSIVE रिपोर्ट।

अत: बिरयानी में हिंदुओं को नपुंसक बनाने के लिए दवा मिलाये जाने का दावा झूठा है।