Digital Forensic, Research and Analytics Center

शनिवार, जून 25, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

Tag: Hate Speech

Browse our exclusive articles!

यूपी चुनावः BJP की सत्ता में वापसी होते ही सोशल मीडिया पर निशाने पर आए मुस्लिम

10 मार्च 2022 को उत्तर प्रदेश सहित 5 राज्यों में हुए चुनाव के नतीजे आए। इन चुनावों में बीजेपी ने 4 राज्यों में जीत...

यासीन मलिक की पत्नी मुशाल मलिक का कश्मीर पर भारत विरोधी एजेंडा

जम्मू-कश्मीर हमेशा से भारत और पाकिस्तान के बीच बहस का विषय रहा है। जहां भारत इसे अपना अभिन्न अंग मानता है, वहीं पाकिस्तान इसे विवादित क्षेत्र...

DFRAC Exclusive: यूपी चुनाव 2022 में फ़ेक और नफरत फैलाने वाले तत्व

यूपी चुनाव की हलचल के बीच उम्मीदवारों द्वारा आम लोगों को लुभाने के लिए कई वादे किए गए हैं। लेकिन, वोटरों को जीतने का...

 क्या दलित नफरत के केंद्र में बदल रहा है इंस्टाग्राम?

सोशल मीडिया का शाब्दिक अर्थ एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न होता है| जहां यह कई लोगों के लिए वरदान है, वही दूसरों के लिए अभिशाप बन सकता है। जैसा कि लोग कहते हैं कि सोशल मीडिया बेजुबानों को आवाज देता है , यह कुछ हद तक सच है| लेकिन यह हमारे समाज के विरोधी तत्वों को भी आवाज देता है। इन असामाजिक तत्वों के मन में ऐसी रूढ़िवादी विचारधारा हैं कि इसके नीचे या ऊपर कुछ भी उनके लिए काम नहीं करता है। वे सभी अलग-अलग समुदायों और लोगों के बीच नफरत फैलाने में व्यस्त हैं। सोशल मीडिया के जरिए यह अब बहुत आसान हो गया है। यह हमारे राष्ट्र के लिए बड़े ही दुख की बात है | जो युवा देश के लिए एक बड़ी संपत्ति हो सकते हैं, वे वास्तव में एक बोझ बनते जा रहे हैं। अगर देखा जाए तो जिस सदी मे हम रेह है जो की 21वी सदी है, ऐसी रूढ़िवादी मानसिकता के बारे में सोचना एक सकारात्मक स्थान में रहने वाले व्यक्ति के लिए मुश्किल है| लेकिन, यह मौजूद है और इसे तब तक मिटा नहीं सकता जब तक कि वे स्वयं उस पर निर्णय नहीं लेते। हुमे बहुत हैरानी हुई जब हमने इंस्टाग्राम पर समाज के विभिन्न वर्गों में नफरत फैलाने वाले बहुत सारे खातों को देखा, जैसे कि एक तरफ ऐसे खाते थे जो महिलाओं को नीचा दिखा रहे हैं, वहीं कुछ अन्य हैं जो बहुजन समाज/दलितों को नीचा दिखाते हैं। महिलाओं के खिलाफ नफरत इस तरह के खातों के यूजर्स के लिए जिनके हिसाब से महिलाओं को शिष्ट, शुद्ध, पतिव्रत, अच्छी तरह से तैयार होना चाहिए, संक्षेप में, सुंदरता के निर्धारित मानकों को पूरा करना चाहिए| उनके लिए "फेमिनिस्ट" शब्द हाराम है। हमने कई पोस्ट और मीम्स देखे हैं जहां इंस्टाग्राम पर महिलाओं का मजाक उड़ाया जाता है।   दलितों के खिलाफ नफरत नफरत फैलाने का स्तर महिलाओं तक ही सीमित नहीं है बल्कि दलितों को भी अपने घेरे में ले चुका है। यह बात जगजाहिर है  कि डॉ....

EXCLUSIVE Report: कालीचरण महाराज की गिरफ्तारी पर सोशल मीडिया पर फैले सांप्रदायिकता का विश्लेषण

भारत के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर विवादित टिप्पणी करने वाले कालीचरण महाराज उर्फ अभिजीत धनन्जय सराग को छत्तीसगढ़ पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। कालीचरण...

Popular

पूर्व राष्ट्रपति पाटिल के PM मोदी की तारीफ़ करने का फ़र्ज़ी दावा वायरल 

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट जमकर वायरल हो रहा...

फैक्ट चेक: Aaditya Thackeray को लेकर ज़ी न्यूज, इंडिया TV सहित कई मीडिया चैनलों ने फैलाया झूठ

महाराष्ट्र में शिवसेना के अंदर गतिरोध जारी है। पार्टी...

फैक्ट चेक: पीएम मोदी की तारीफ करते ऑस्ट्रेलियाई पीएम का पुराना वीडियो वायरल

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री टोनी एबॉट का नरेंद्र मोदी की तारीफ करते...

Subscribe

spot_imgspot_img