Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फेक्ट चेक: मुस्लिमों के सनातन धर्म में वापसी के दावे के साथ वायरल तस्वीर निकली झूठी

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर बड़े पैमाने पर वायरल हो रही। इस तस्वीर को शेयर कर दावा किया गया कि वसीम रिजवी जी के सनातन धर्म में घर वापसी के बाद मुस्लिम स्वेच्छा से घर वापसी कर रहे है।

यूजर का दावा

एक यूजर ने लिखा कि ‘यूपी में 34 मुस्लिम परिवारों ने कि हिन्दू धर्म मे वापसी। जय श्री राम🙏🏻🚩 सनातन ही सत्य है🙏🏻🚩

यूजर का दावा

वहीं एक अन्य यूजर ने दावा किया कि वसीम रिजवी जी के सनातन धर्म में घर वापसी के बाद मुस्लिमों का डर खुल रहा है,और वो स्वेच्छा से घर वापसी कर रहे है। यूपी में 34 मुस्लिम परिवारों ने कि सनातन हिन्दू धर्म में वापसी 🚩🛕जय श्री राम🛕🚩

फेक्ट चेक: 

अमर उजाला की रिपोर्ट

इस तस्वीर की पड़ताल करने पर पाया कि यह तस्वीर 18 सितंबर, 2016 को ली गई थी। उरी हमले के बाद स्थानीय मुस्लिम समुदाय के लोग पाकिस्तान का विरोध करने के लिए शाही जामा मस्जिद में जमा हुए थे। इस सबंध में हमे अमर उजाला द्वारा प्रकाशित एक रिपोर्ट भी मिली।

रिपोर्ट मे बताया गया कि इस दौरान मस्जिद के इमाम मोहम्मद उमर कादरी और महामंडलेश्वर नवल गिरी ने भारत माता की जय, हिंदुस्तान जिंदाबाद और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए थे।

अत: तस्वीर के साथ किया दावा पूरी तरह से झूठा और फेक है।