Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेकः यूपी कांग्रेस के ट्वीटर हैंडल से किया गया दावा भ्रामक है

सोशल मीडिया पर तमाम राजनीतिक दलों के आईटी सेल द्वारा ऐसी पोस्ट डाली जाती है, जिसका हकीकत से कोई वास्ता नहीं होता है। फैक्ट चेक करने वाले तमाम वेबसाइटों ने इन आईटी सेल की झूठी खबरों का कई बार फैक्ट चेक भी किया है। ऐसा ही एक भ्रामक पोस्ट 30 अगस्त, 2021 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस, उत्तर प्रदेश के अधिकारिक ट्वीटर हैंडल  से किया गया है। यूपी कांग्रेस ने एक वीडियो ट्वीट किया, जिसमें एक युवती को कई लोग खाट पर ले जा रहे हैं।

इस वीडियो पर कैप्शन “मिशन शक्ति और पिंक बूथ का ढोंग करने वाले बयानवीर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के प्रदेश की तस्वीर है। वीडियो – बुलन्दशहर से” देकर यूपी में महिला सुरक्षा पर सवाल उठाया जा रहा है। इस वीडियो को 8 हजार से ज्यादा बार देखा जा चुका है साथ ही कई बार रिट्वीट किया गया है। वहीं कई यूजर इस वीडियो को शेयर करते हुए लिख रहे हैं कि यूपी में महिलाओं का बुरा हाल है।

 

कांग्रेस यूपी द्वारा पोस्ट किया गया वीडियो
रेप का सुझाव देने वाले यूजर द्वारा पोस्ट किया गया वीडियो

 

फैक्ट चेकः

वायरल हो रहे इस वीडियो की हमारी टीम से गहनता से जांच की और वीडियो की सच्चाई का पता लगाया। दरअसल इस वीडियो को लेकर बुलंदशहर के एसएसपी ने पहले ही स्पष्टीकरण दे दिया है। एसएसपी के मुताबिक घटना अहमदगढ़ थाना क्षेत्र की है। उस महिला की मानसिक हालत ठीक नहीं है, वह अपने घरवालों के साथ गाली-गलौज और दुर्व्यवहार करती रहती है। इसलिए परिजनों और स्थानीय लोग उसे खाट पर ले जा रहे हैं ताकि उसका इलाज करवाया जा सके।

यूपी पुलिस का बयान

इसलिए यूपी कांग्रेस और दूसरे यूजर द्वारा किया जा रहा दावा झूठा और भ्रामक है। कुछ लोग ये भी दावा कर रहे थे कि इस महिला का बलात्कार करने के लिए गुंडे ले जा रहे हैं तो यह दावा भी झूठा है। वहीं इस वीडियो पर किए गए दावे को लेकर यूपी कांग्रेस की तरफ से अभी तक कोई स्पष्टीकरण नहीं दिया गया है।