Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेकः फरीदाबाद के वीडियो को पाकिस्तानियों ने कश्मीर का बताकर किया वायरल

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पिछले कुछ दिनों से एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है। इस वायरल वीडियो में दिख रहा है कि एक युवक को सड़क कुछ लोग लाठी-डंडों से पीट रहे हैं। वहीं एक युवक के हाथ में हथौड़ा है, जिससे वह युवक को पीट रहा है।

इस वायरल वीडियो को पाकिस्तानी हैंडल QurbanAly4 ने शेयर किया है। इसने दावा किया है कि यह वीडियो भारत के कश्मीर का है। पाकिस्तानी हैंडल द्वारा हैशटैग #SolidariTea4Kashmir के साथ वीडियो को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि कश्मीर में मुसलमानों के साथ बर्बरता हो रही है।

ट्वीट में लिखा है- ‘और यह भारत है, जो डेली बेसिस पर अल्पसंख्यकों के खिलाफ है। यह शर्मनाक है कि अमेरिका, मानवाधिकार संगठन और पश्चिमी मीडिया अपने स्वयं के व्यावसायिक लाभों के लिए आंखें मूंद रहे हैं।’

इस वीडियो को खूब शेयर किया गया और ट्विटर पर लगभग 90,000 यूजर्स ने इसे देखा है।

फैक्ट चेक:

पाकिस्तानी ट्वीटर हैंडल द्वारा शेयर किए गए वीडियो का हमारी टीम ने फैक्ट चेक और विश्लेषण करने के बाद पाया कि यह वीडियो भ्रामक है। यह वीडियो कश्मीर का नहीं बल्कि 6 दिसंबर, 2021 को दिल्ली के बाहरी इलाके फरीदाबाद का है। पीड़ित और आरोपी सभी हिंदू हैं और यह घटना व्यक्तिगत रंजिश को लेकर हुई है।

इंडिया टुडे और टाइम्स नाउ हिंदी ने भी 6 दिसंबर को इस घटना की रिपोर्ट दी थी। जैसा कि हरियाणा पुलिस की आधिकारिक प्रेस विज्ञप्ति में बताया गया है, यह हमला बदले की भावना से किया गया था।

इसलिए, यह स्पष्ट रूप से बताता है कि वीडियो कश्मीर का नहीं बल्कि फरीदाबाद का है और QurbanAly4 जैसे पाकिस्तानी अकाउंट सांप्रदायिक नफरत और हिंसा फैलाने के लिए ऐसे वीडियो को सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं। इस प्रकार हम कह सकते हैं कि उनका यह दावा गलत, फेक और भ्रामक है।