Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

CDS रावत के हेलीकॉप्टर क्रैश के बाद पाकिस्तानियों ने फैलाए फेक न्यूज़

आज तमिलनाडु के पहाड़ी इलाके नीलगिरि जिले में कुन्नूर के पास CDS बिपिन रावत और उनकी पत्नी सहित 14 लोगों का हेलीकॉप्टर क्रैश में निधन हो गया। वायु सेना का Mi-17V5 हेलीकॉप्टर CDS रावत और उनकी पत्नी सहित 14 सैन्यकर्मियों को ले जा रहा था, जो कुन्नूर के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गया। वायु सेना ने पुष्टि की है कि जनरल रावत हेलीकॉप्टर में थे।

CDS रावत के निधन के बाद भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस नेता राहुल गांधी सहित तमाम लोगों ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

सोशल मीडिया पर लोग जनरल रावत सहित 14 लोगों की मौत पर श्रद्धांजलि अर्पित कर रहे हैं। वहीं पाकिस्तानियों द्वारा इस मौके पर भी घटियापन दिखाया गया। फोरम स्ट्रैटेजिक, जो इस्लामाबाद स्थित एक थिंक-टैंक है, उसने इस घटना पर ट्वीट कर दावा किया कि तमिल विद्रोहियों ने हेलिकॉप्टर को मार गिराया था। यह ट्वीट अब उनके अकाउंट में कहीं नहीं है क्योंकि ट्वीट उनके द्वारा हटा दिया गया है।

उनके ट्वीट के बाद कई पाकिस्तानी अकाउंट्स ने भी फोरम स्ट्रैटेजिक के इसी बयान का दावा करते हुए ट्वीट किया। एक यूजर ने फोरम स्ट्रेटेजिक को समाचार का स्रोत भी बताया।

यूजर का ट्वीट
यूजर का ट्वीट
यूजर का ट्वीट

 

फैक्ट चेक:

फ़ोरम स्ट्रेटेजिक और अन्य पाकिस्तानी हैंडल का दावा स्पष्ट रूप से गलत और भ्रामक है, क्योंकि ऐसी कोई रिपोर्ट नहीं है कि तमिल विद्रोहियों द्वारा जनरल रावत के हेलिकॉप्टर को मार गिराया गया था।

द टाइम्स ऑफ इंडिया और एनडीटीवी की रिपोर्ट के अनुसार जनरल रावत और उनके परिवार के सदस्यों सहित 14 सेना के जवानों को ले जा रहा हेलिकॉप्टर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। तमिल विद्रोहियों द्वारा हेलीकॉप्टर को निशाना बनाए जाने की अभी कोई सूचना नहीं है। हालांकि भारतीय सेना और प्रमुख जांच एजेंसियां हेलीकॉप्टर क्रैश होने की वजह की जांच करेगी।

इसलिए हम साफ तौर पर कह सकते हैं कि फोरम स्ट्रेटेजिक और अन्य पाकिस्तानी हैंडल के ट्वीट मौजूदा दुखद घटना पर फेक और भ्रामक प्रोपेगेंडा फैलाने के लिए किया गया था।