Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट-चेक: पुलवामा हमले के सिलसिले में बांग्लादेश से शेयर किया गया वीडियो

9 नवंबर,2021 को @mauna_adiga नामी एक ट्विटर यूजर ने एक वीडियो पोस्ट किया। यूजर को कपिल मिश्रा, अमन चोपड़ा और आरके सिंह जैसे कई हाई प्रोफाइल अकाउंट फॉलो करते हैं और उनके 30,000 से अधिक फॉलोअर्स भी हैं।

यूजर द्वारा पोस्ट किये गए वीडियो में देखा जा सकता है कि पुलिस अधिकारी बुर्का पहने एक शख्स की तलाशी ले रहे हैं। बुर्के के अंदर रखे पैकेजों को उतारवा रहे हैं। बुर्का पहने व्यक्ति के शरीर पर पैकेज टेप किए गए हैं और एक पल के लिए ऐसा लग रहा है कि यह विस्फोटक उपकरण हो सकता है। इस वीडियो को कैप्शन दिया गया कि, “अब यह मत पूछो कि पुलवामा में विस्फोटक कैसे आए”। इसे अब तक 5,000 से ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं।

तथ्यों की जांच:

हमने वीडियो को मुख्य फ़्रेमों में तोड़ दिया और रिवर्स इमेज सर्च किया जब तक कि हम समाचार रिपोर्ट और घटना के वीडियो पर नहीं पहुंच गए। बांग्लादेशी मीडिया में प्रकाशित विभिन्न समाचार रिपोर्टों के अनुसार, यह घटना वास्तव में मार्च, 2021 में बांग्लादेश में हुई थी। रिपोर्टों में कहा गया है कि दो व्यक्ति मोहम्मद सागर (20) और आमेना बेगम (19) शराब की तस्करी करते हुए पकड़े गए थे। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि बांग्लादेश में शराब के सेवन के सख्त नियम हैं जिसके लिए किसी के पास लाइसेंस होना चाहिए।

यहां देखिए न्यूज चैनल स्माइल टीवी बांग्ला द्वारा पोस्ट किया गया वीडियो।

चूंकि वीडियो बांग्लादेश में लिया गया था और इसका पुलवामा हमले से कोई लेना-देना नहीं था, इसलिए यह दावा फर्जी है। और इस भ्रामक दावे के साथ इसे एक ऐजेंडे के तहत शेयर किया जा रहा है।