Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेक: क्या ‘तेरी मिट्टी’ गाना पाकिस्तान से चुराया गया है?

ऑल टेक उरु नामक एक यूट्यूब चैनल ने “तेरी मिट्टी फीमेल- वर्जन, केसरी | शीर्षक से एक वीडियो पोस्ट किया मूल गीत पाकिस्तान 2005 बॉलीवुड कॉपी सॉन्ग”। वीडियो एक महिला का है जो केसरी फिल्म का एक लोकप्रिय गीत “तेरी मिट्टी” गा रही है, इसके टाइटल से पता चलता है कि यह गीत मूल रूप से 2005 में गाया गया था और यह पाकिस्तान का है।


यूट्यूब पर इस वीडियो को 14,000 लाइक्स के साथ 9,00,000 बार देखा जा चुका है। हालाँकि, इस पर टिप्पणी करने का ऑप्शन बंद किया हुआ है। जानकारी के लिये बता दें कि इस गीत को रिलीज़ होने पर राष्ट्रीय पुरस्कारों सहित कई पुरस्कारों के लिए नामांकित किया गया था।

फैक्ट चेक

वीडियो के मुख्य फ़्रेमों को रिवर्स सर्च करने पर हमने पाया कि वीडियो में दिख रही महिला वास्तव में एक गुजराती लोक गायिका गीता बेन रबारी है, जो भारत की रहने वाली है। उन्होंने कई मौकों पर एक ही गाने के कई वर्जन गाए हैं। यहां उनका एक वीडियो पोस्ट किया जा रहा है जिसमें वे पाकिस्तानी चैनल द्वारा पोस्ट किए गए वीडियो के रूप में उसी गेट अप में गाना गा रही हैं।


रबारी की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, उनका जन्म 1996 में हुआ था, जिससे 2005 में उनकी उम्र 9 साल के आस पास ही होगी। जबकि हम देख सकते हैं, वीडियो में दिख रही महिला पूरी तरह से जवान लग रही है।

15 मार्च 2019 से पहले इंटरनेट पर “तेरी मिट्टी” गीत का कोई उल्लेख नहीं है, यह तारीख इसलिये अहम है कि कि क्योंकि यह यह गीत उसी दौरान जारी किया गया था। इसके अलावा, गीत में हिंदी और उर्दू शब्दों का मिश्रण है। जो बताता है कि अगर यह गीत पाकिस्तान का होता तो उसमें “बलिदान” शब्द की जगह “शहीद” शब्द लिखा गया होता। इसलिए यह दावा फर्जी है।