Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फ़ैक्ट चेक: क्या गुजरात में लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे? वायरल वीडियो की जानिए सच्चाई

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो गुजरात के कच्छ का बताया जा रहा है। दावा किया गया कि वीडियो में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए गए है।

वीडियो को शेयर कर एक यूजर ने कहा, ‘गुजरात: कच्छ के दुधई गांव में ग्राम पंचायत चुनाव में जीत के बाद लगे पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे आप भारत मे है और सुनिए किनका उदघोष हमारे अल्पसंख्यक लगा रहे है, ये किसी सेक्युलर नेता को क्यों सुनाई नहीं देता, क्यों इस उदघोष को रोकने के बयान नहीं दिए जाते, इसको क्या कहोगे असहिष्णुता’

इसी तरह के मिलते जुलते दावों के साथ इस वीडियो को कई अन्य लोगों ने भी शेयर किया।

फैक्ट चेक:

News18 गुजराती की एक रिपोर्ट
News18 गुजराती की एक रिपोर्ट

वायरल वीडियो की पड़ताल करने पर हमें News18 गुजराती की एक रिपोर्ट मिली, जो दुधई ग्राम पंचायत के चुनाव से सबंधित है। रिपोर्ट में बताया गया कि ‘कच्छ में भुज से 50 किमी दूर दुधई गांव में  हुए पंचायत चुनाव में रीनाबेन रंधूभाई कोठीवाड़ को 1026 मतों से जीत मिली। उनकी जीत के बाद उनके समर्थकों ने ‘राधुभाई जिंदाबाद’ का नारा लगाया। राधुभाई विजयी उम्मीदवार रीनाबेन के पति हैं।’

पूर्वी कच्छ के अधीक्षक का एक ट्वीट
पूर्वी कच्छ के अधीक्षक का एक ट्वीट

इस सबंध में पूर्वी कच्छ के अधीक्षक कार्यालय का एक ट्वीट भी मिला। जिसमे उन्होने कहा कि ‘यह वीडियो सोशल मीडिया पर झूठा दावे के साथ पोस्ट किया गया कि चुनावी जीत रैली में “पाकिस्तान जिंदाबाद” का नारा लगाया गया था! वीडियो में भीड़ ने हमें बताया कि उस व्यक्ति ने दो बार “राधुभाई जिंदाबाद” की जय-जयकार की। राधुभाई रिनाबेन (विजयी सरपंच प्रत्याशी) के पति का नाम हैं!

इसके अलावा हमें एसपी मयूर पाटिल का एक अन्य वीडियो भी मिला, जिसमें उन्होंने स्पष्ट किया कि पाकिस्तान समर्थक नारे नहीं लगाए गए थे।

वीडियो में उन्होंने कहा, “ग्राम पंचायत चुनाव परिणामों की घोषणा के बाद दुधई गांव की उम्मीदवार रीनाबेन राधुभाई कोठीवाड़ को नया सरपंच घोषित किया गया था। इसके बाद एक रैली में, उनके समर्थकों ने ‘राधुभाई जिंदाबाद’ के नारे लगाए। इस नारे वाला एक वीडियो था यह दावा करते हुए प्रसारित किया गया कि नारा ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ था। हालांकि, अगर आप बारीकी से सुनते हैं, तो आपको पता चल जाएगा कि लोग वास्तव में क्या नारे लगा रहे हैं। इस भ्रामक दावे के साथ दृश्य साझा करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।”

निष्कर्ष:

स्पष्ट है कि दुधई ग्राम पंचायत के परिणाम के बाद ‘पाकिस्तान जिंदाबाद’ का नारा नहीं लगाया गया था। बल्कि रीनाबेन रंधूभाई कोठीवाड़ के समर्थकों ने ‘राधुभाई जिंदाबाद’ के नारा लगाया था। अत: यह दावा भ्रामक है।