Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेकः क्या केरल की चर्च पर IT रेड में जब्त हुए ₹7000 करोड़?

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर केरल के एक चर्च पर आईटी रेड में 7000 करोड़ रुपए मिलने का दावा किया जा रहा है। वायरल हो रही तस्वीर में एक टेबल पर नोटों की बहुत सारी गड्डियां रखी गई हैं। पोस्ट में यह भी दावा किया गया है कि चर्च के बिशप जोहानन को प्रवर्तन निदेशालय ने गिरफ्तार कर लिया है।

फैक्ट चेकः

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे दावे की हमारी टीम ने पड़ताल की। पड़ताल में सामने आया कि चर्च पर छापे का दावा करने वाले सोशल मीडिया पोस्ट को नवंबर 2020 में बड़े पैमाने पर शेयर किया गया था। ट्विटर यूजर कविता तिवारी ने इस दावे को ट्वीट किया जिसे 1,777 लाइक्स और 839 रीट्वीट मिले हैं।

इसके बाद सोशल मीडिया पर इसी चर्च पर छापेमारी का दावा दोबारा मई, 2021 वायरल होने लगा। ट्विटर यूजर सुभाष पांडे टी.ए.बी. द्वारा इसे फिर से शेयर किया गया, जिसे 3000 से अधिक लाइक और 2675 रीट्वीट मिले।

अंग्रेजी के प्रसिद्ध अखबार ‘द हिंदू’ की रिपोर्ट के मुताबिक आयकर अधिकारियों ने कहा कि तलाशी के दौरान लगभग 6 करोड़ की अस्पष्टीकृत नकदी बरामद की गई थी, जिसमें दिल्ली में स्थित एक धार्मिक स्थल से मिले 3.85 करोड़ भी शामिल थे।

‘द हिंदू’ की रिपोर्ट

वहीं वायरल तस्वीर में चर्च के बिशप के.पी. योहानन और बिशप जोहानन वाग्यारा को गिरफ्तार होने का दावा किया गया था। जबकि हमें बिशप के खिलाफ किसी गिरफ्तारी की कोई रिपोर्ट नहीं मिली।

इसलिए केरल के बिलीवर्स ईस्टर्न चर्च पर छापेमारी में 7000 करोड़ मिलने का दावा भ्रामक है।