Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट-चेक: त्रिपुरा में हुई हिंसा के विरोध प्रदर्शन का वीडियो वायरल, जानें क्या है सच्चाई

त्रिपुरा में हाल ही में हुई सांप्रदायिक हिंसा हुई है। सोशल मीडिया पर इस हिंसा से संबंधित वीडियो तेज़ी से वायरल हो रहे हैं। इन वीडियो और तस्वीरों में कुछ वीडियो और तस्वीरें भ्रामक भी हैं। 28 अक्टूबर को, यूजर्स ने दावा किया कि त्रिपुरा में जो सांप्रदायिक हिंसा हुई है, उसके ख़िलाफ राज्य में एक विशाल विरोध प्रदर्शन हुआ है।

यूजर द्वारा पोस्ट किया गया वीडियो 2,000 बार देखा गया
एक ही वीडियो को कई यूजर्स ने पोस्ट किया था

तथ्यों की जांच:

वीडियो पर की-वर्ड और की-फ्रेम सर्च करने पर हमने पाया कि यह वीडियो मई, 2021 में पोस्ट किया गया था। यह हुजूम वास्तव में 9 मई, 2021 को उत्तर प्रदेश के बदायूं में हजरत अब्दुल हमीद मोहम्मद सलीमुल कादरी के नमाज़-ए-जनाज़ा में शामिल हुए लोगो का था।
यहाँ मूल वीडियो है:

चूंकि त्रिपुरा से जुड़ी फर्जी खबरों में तेजी आई है, इसलिए पुलिस ने बयान जारी कर नागरिकों को इससे सावधान रहने की चेतावनी दी है।

चूंकि वीडियो त्रिपुरा से संबंधित नहीं है, इसलिए यह दावा झूठा है।