Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेकः अमेरिका के वीडियो को अफगानिस्तान का बताकर किया जा रहा वायरल

अफगानिस्तान पर तालिबानी कब्जा होते ही पूरी दुनिया में ऊहापोह की स्थिति बनी हुई है। अफगानिस्तान में घटनाओं को लेकर सही तथ्यों तक लोगों की पहुंच नहीं हो पा रही है। किसी भी वीडियो को अफगानिस्तान का बताकर वायरल कर दिया जा रहा है, और लोग बिना किसी तथ्य जांच के उस वायरल वीडियो को सच मान ले रहे हैं। कई वीडियो के तथ्यों की जांच के बाद यह साबित हो रहा है कि वीडिया या तो पुराना या फिर गलत है।

एक उपयोगकर्ता द्वारा पोस्ट किया गया दावा कि वीडियो अफगानिस्तान का है

इस बीच सोशल मीडिया पर एक और वीडियो वायरल हो रहा है। इस वीडियो को शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि यह काबुल एयरपोर्ट का है, जहां अफगानिस्तान से सुरक्षित बाहर जाने के लिए लोगों की भारी भीड़ इकट्ठा हो गई है। भीड़ ज्यादा होने की वजह से यहा भगदड़ भी मच गई है। वीडियो को ट्विटर और फेसबुक पर हजारों लोग शेयर कर चुके हैं जबकि लाखों लोग देख चुके हैं और वीडियो के वायरल होने का सिलसिला अभी भी लगातार बढ़ता जा रहा है।

फैक्ट चेकः

वायरल हो रहे इस वीडियो की जब जांच की गई तो इसकी सच्चाई सामने आई। दरअसल यह वीडियो अफगानिस्तान का नहीं है। यह वीडियो अमेरिका के टेक्सास राज्य के अर्लिंगटन शहर का है। जहां 2019 में एटी एंड टी स्टेडियम में डलास काउबॉय और सिएटल सीहॉक्स के बीच प्लेऑफ़ खेल हो रहा है। जिसे जोन मैकोटा द्वारा 6 जनवरी 2019 को शेयर किया गया है। इसलिए यह यह दावा गलत और झूठा है कि यह वीडियो अफगानिस्तान के एयरपोर्ट का है।