Digital Forensic, Research and Analytics Center

रविवार, फ़रवरी 5, 2023
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
होमHateराहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर सोशल मीडिया पर फैली...

राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर सोशल मीडिया पर फैली फेक और भ्रामक सूचनाओं का विश्लेषण

Published on

Subscribe us

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी कन्याकुमारी से कश्मीर तक भारत जोड़ो यात्रा निकाल रहे हैं। यात्रा की शुरुआत 7 सितंबर को कन्याकुमारी से हुई थी। यह यात्रा 12 राज्यों और 2 केंद्र शासित प्रदेशों से होकर गुजरेगी। 5 महीने यानी 150 दिनों तक चलने वाली इस यात्रा में कुल 3500 किलोमीटर की दूरी तय की जाएगी। यह यात्रा दो शिफ्टों में हो रही है, पहली शिफ्ट सुबह 10.30 बजे से और दूसरी शिफ्ट की यात्रा दोपहर 3.30 बजे से चल रही है। 

राहुल गांधी की यात्रा शुरु होने के साथ ही सोशल मीडिया पर उनकी कई तस्वीरें वायरल हो रही है। जिसमें प्रमुख रुप से बारिश में भीगते हुए कार्यकर्ताओं को संबोधित करना, लोकल कांग्रेस कार्यकर्ताओं, आम लोगों और महिलाओं से मुलाकात करना, अपनी मां और कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी के जूते के फीते बांधना और विभिन्न धर्मों के धर्मगुरुओं और पंथों के प्रमुखों से मुलाकात करना शामिल है।

वहीं राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा जब से शुरु हुई है, सोशल मीडिया पर राहुल गांधी को लेकर तमाम प्रकार की भ्रामक, फेक और तथ्यहीन दावे किए जा रहे हैं। कभी राहुल गांधी के अधूरे वीडियो को शेयर करके उन्हें हिन्दू विरोधी बताया जा रहा है, तो किसी वीडियो में उनको देवी दुर्गा की आरती नहीं करना दिखाया गया है। इसके अलावा राहुल गांधी को मुस्लिम और ईसाई धर्म का समर्थक और हिन्दू विरोधी बताते हुए कई दावे किए गए हैं।

DFRAC के इस विश्लेषण में हम राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा को लेकर सोशल मीडिया पर अब तक किए गए कई भ्रामक, फेक और तथ्यहीन दावों की पड़ताल कर रहे हैं।

1. राहुल गांधी की ब्रांडेड टी-शर्ट को लेकर विवादः

भारत जोड़ो यात्रा पर पहला विवाद राहुल गांधी द्वारा पहने गए एक टी-शर्ट को लेकर शुरु हुआ था। इस टी-शर्ट की कीमत को कुछ लोगों ने 41 हजार रुपए का बताया तो कुछ लोगों ने 35 हजार रुपए का बताया था। दरअसल बीजेपी के ऑफिशियल अकाउंट से एक ट्वीट कर राहुल गांधी की टी-शर्ट को बरबेरी कंपनी का बताया गया था। इसके साथ ही इस टी-शर्ट का दाम भी पोस्ट किया गया था। हालांकि राहुल गांधी ने जो टी-शर्ट पहनी है, उसके सही दाम को लेकर स्थिति कुछ भी साफ नहीं हो पाई है।

2.नरेंद्र मोदी जिंदाबाद और राहुल गांधी मूर्दाबाद के नारे का गलत दावाः

राहुल गांधी की यात्रा जब तमिलनाडु में थी, तब सोशल मीडिया पर एक दावा किया जा रहा था कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने नरेंद्र मोदी जिंदाबाद और राहुल गांधी मूर्दाबाद के नारे लगाए।

DFRAC ने जब इस वीडियो का फैक्ट चेक किया तो इस दावे को भ्रामक पाया। दरअसल ये वीडियो 2018 में कांग्रेस के महंगाई और बेरोजगारी को लेकर किए गए देशव्यापी के प्रदर्शन के दौरान का था, जहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने गलती से नारेबाजी कर दी थी। नीचे दिए लिंक पर आप फैक्ट चेक को विस्तृत रुप से पढ़ सकते हैं।

3. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी का गलत दावाः

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को लेकर एक गलत दावा किया था। 10 सितंबर को कर्नाटक के डोड्डाबल्लापुरा में आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए स्मृति ईरानी ने दावा किया कि राहुल गांधी ने जिस कन्याकुमारी से भारत जोड़ो यात्रा की शुरुआत की थी, उन्होंने वहां स्थित स्वामी विवेकानंद के मेमोरियल में जाकर विवेकानंद को प्रणाम नहीं किया।

DFRAC की टीम ने जब इसका फैक्ट चेक किया तो पाया कि स्मृति ईरानी का दावा गलत था। राहुल गांधी ने स्वामी विवेकानंद के मेमोरियल जाकर उनको प्रणाम किया था।

4. हिन्दूओं और हिन्दुत्ववादियों को सत्ता बाहर करने का दावा

राहुल गांधी का 9 सेकेंड का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस वीडियो में राहुल गांधी को यह कहते हुए सुना जा सकता है कि हमें हिन्दुओं और हिन्दुत्ववादियों को सत्ता से बाहर निकालना है। सोशल मीडिया यूजर्स इस वीडियो को शेयर करके राहुल गांधी को हिन्दू विरोधी करार दे रहे हैं।

DFRAC ने जब इस वीडियो का फैक्ट चेक किया तो पाया कि सोशल मीडिया यूजर्स का दावा गलत है। राहुल गांधी अपने भाषण में महात्मा गांधी और उनके हत्यारे नाथूराम गोडसे का उदाहरण देते हुए हिन्दु और हिन्दुत्व के बीच फर्क बताते हैं। वह गांधी जी को सच्चा हिन्दू और गोडसे को हिन्दुत्ववादी करार देते हुए कहते हैं कि हमें हिन्दुत्ववादियों को सत्ता बाहर निकालकर सच्चे हिन्दुओं की सत्ता स्थापित करनी है।

5. भारत जोड़ो यात्रा में पाकिस्तानी झंडा और इस्लामी झंडा

सोशल मीडिया पर एक वीडियो को शेयर करके दावा किया जा रहा है कि राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में पाकिस्तान का झंडा और इस्लामी झंडा फहराया गया। सुदर्शन न्यूज के पत्रकार सुरेश चव्हाणके सहित कई वेरीफाइड यूजर्स ने इस वीडियो को शेयर किया था।

DFRAC ने जब इस वीडियो का फैक्ट चेक किया तो पाया कि वीडियो में दिख रहा झंडा ना पाकिस्तान का है और ना ही इस्लामी झंडा है, बल्कि यह झंडा एक राजनीतिक पार्टी इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग का झंडा है। मुस्लिम लीग के साथ कांग्रेस का केरल में गठबंधन भी है। इसलिए चव्हाणके सहित दूसरे सोशल मीडिया यूजर्स का दावा गलत है।

6. शंकराचार्य ने राहुल गांधी को हिन्दू विरोधी कहते हुए आशीर्वाद देने से मना किया

सोशल मीडिया पर राहुल गांधी की एक फोटो जमकर वायरल की गई। इस फोटो को शेयर करने वाले यूजर्स ने दावा किया कि राहुल गांधी को कर्नाटक के श्रृंगेरी मठ के शंकराचार्य ने हिन्दू विरोधी करार देते हुए आशीर्वाद देने से मना कर दिया।  

DFRAC ने जब इस वायरल फोटो का फैक्ट चेक किया तो सामने आया है कि सोशल मीडिया यूजर्स का दावा गलत है। दरअसल यह फोटो 2018 की है, जब राहुल गांधी जनआशीर्वाद यात्रा निकाल रहे थे। इस दौरान उन्होंने चिकमंगलूर में श्रृंगेरी मठ के शंकराचार्य भारती तीर्थ स्वामी से मुलाकात की। शंकराचार्य से राहुल गांधी की मुलाकात की फोटो को न्यूज एजेंसी एएनआई और कांग्रेस के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से फोटो पोस्ट किया गया था।

7. पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगाने वाली कार्यकर्ता से मुलाकात

सोशल मीडिया पर राहुल गांधी की एक फोटो जमकर वायरल की गई थी। इस फोटो में राहुल गांधी को एक महिला कार्यकर्ता के साथ देखा जा सकता है। इस फोटो को शेयर करने वाले यूजर्स दावा कर रहे थे यह वहीं महिला कार्यकर्ता है, जिसने AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी की रैली में पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे।

DFRAC ने जब इस फोटो का फैक्ट चेक किया तो तथ्य सामने आया कि सोशल मीडिया यूजर्स का दावा गलत है। दरअसल राहुल गांधी के साथ दिख रही महिला कार्यकर्ता मिया एनरेलियो है, जो कांग्रेस सेवा दल (KSU) की नेता हैं। वहीं जिस लड़की ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाए थे, उसका नाम अमूल्य लियोना नोरोन्हा है।

8. राहुल गांधी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के शराब पीने का दावा

सोशल मीडिया पर यूजर्स द्वारा एक वीडियो शेयर करके दावा किया गया था कि भारत जोड़ो यात्रा के दौरान राहुल गांधी और दूसरे कांग्रेस के नेता शराब के नशे में थे। इस वीडियो में राहुल गांधी, केसी वेणुगोपाल सहित दूसरे कांग्रेस नेताओं को देखा जा सकता है।

DFRAC ने जब इस वीडियो का फैक्ट चेक किया तो पाया कि सोशल मीडिया यूजर्स ने गलत दावा किया है। DFRAC को कांग्रेस नेता डॉ. शमा का एक मलयालम वीडियो मिला। वीडियो में हम केरल के कोल्लम जिले के ओचिरा में रेस्तरां का नाम – होटल मालाबार देख सकते हैं। जहां राहुल गांधी और केरल के अन्य कांग्रेस नेताओं ने केरल के कोल्लम जिले के ओचिरा में एक रेस्तरां में नाश्ता किया था।

DFRAC टीम ने रेस्टोरेंट के मालिक अंसार को फोन किया और उन्होंने हमें बताया कि राहुल गांधी और अन्य कांग्रेस नेता के नशे में होने का वायरल दावा झूठा है क्योंकि रेस्टोरेंट में शराब नहीं परोसी जाती है।

9. राहुल गांधी के एक भी मंदिर का दौरा नहीं करने का दावा

सोशल मीडिया पर दावा किया गया कि राहुल गांधी ने भारत जोड़ो यात्रा के दौरान एक भी मंदिर का दौरा नहीं किया। यूजर्स ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी मस्जिद और चर्च सहित दूसरे धर्मों के धार्मिक स्थल गए, लेकिन वह किसी भी मंदिर में नहीं गए।

DFRAC ने इस दावे का फैक्ट चेक किया और तथ्य सामने आया कि राहुल गांधी ने कोल्लम में शिवगिरी मठ का दौरा किया था। onmanorama.com की रिपोर्ट के मुताबिक शिवगिरी मठ से राहुल गांधी का पुराना रिश्ता है। राहुल से पहले देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और सोनिया गांधी भी शिवगिरी मठ का दौरा कर चुकी हैं।

10. तमिलनाडु BJP IT सेल अध्यक्ष ने शेयर की राहुल गांधी की भ्रामक तस्वीर

तमिलनाडु बीजेपी के आईटी और सोशल मीडिया सेल के अध्यक्ष निर्मल कुमार ने राहुल गांधी की एक तस्वीर शेयर की। उन्होंने तमिल में ट्वीट किया और लिखा कि- पाप है उन 10 लोगों के बारे में सोचना जो इस #पप्पू के साथ तीर्थ यात्रा पर जा रहे हैं और बच्चों के साथ मेंहदी खेल रहे हैं।  

वायरल तस्वीर की हकीकत जानने के लिए DFRAC टीम ने रिवर्स इमेज किया। टीम को getty images पर यह तस्वीर मिली। इस तस्वीर के कैप्शन में यह उल्लेख किया गया कि, यह तस्वीर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी और उनकी भांजी मिराया वाड्रा की है। जो 20 अगस्त, 2015 को वीर भूमि में पूर्व भारतीय प्रधानमंत्री राजीव गांधी की 71 वीं जयंती पर एक स्मरण समारोह के दौरान ली गई। हमारे फैक्ट चेक से सामने आया कि बीजेपी आईटी सेल के अध्यक्ष का दावा गलत है।

11.भारत जोड़ो यात्रा में राहुल गांधी के लिए लक्जरी इंतजाम

सोशल मीडिया पर राहुल गांधी के कारवां को लग्जरी होने का दावा किया गया। यूजर्स इसकी कई तस्वीरें शेयर करते हुए राहुल गांधी का मजाक उड़ा रहे हैं कि वह यात्रा के दौरान लक्जरी इंतजाम का आनंद ले रहे हैं। दावा है कि कंटेनर में सैटेलाइट फोन, सैटेलाइट टीवी के साथ आधुनिक म्यूजिक सिस्टम भी है, इसमें डबलबेड, लाइब्रेरी, सोफा सेट, बार, स्मोकिंग जोन, किचन और आधुनिक शौचालय भी है।

DFRAC की टीम ने इसका फैक्ट चेक किया तो पाया कि वायरल तस्वीरें राहुल गांधी के भारत जोड़ो यात्रा के कंटेनर की नहीं हैं। रिवर्स इमेज सर्च करने पर DFRAC को 2013 की इंडियाटाइम्स की रिपोर्ट में पहली तीन तस्वीरें मिलीं। इस रिपोर्ट के अनुसार, तस्वीरें एक प्रीमियम मोटरहोम के इंटीरियर की थीं, जिसे 2013 में पेश किया गया था।

- Advertisement -[automatic_youtube_gallery type="channel" channel="UCY5tRnems_sRCwmqj_eyxpg" thumb_title="0" thumb_excerpt="0" player_description="0"]

Popular of this week

Latest articles

DFRAC Exclusive: Sudarshan News Journalist is a “Sagar” of Disinformation

In Germany, Hitler's minister Joseph Goebbels is said to have mastered propaganda of distorting...

फारूक अब्दुल्लाह ने कहा- मैं मुस्लिम नहीं, कश्मीरी पंडित हूँ?, पढ़ें- फैक्ट चेक 

सोशल मीडिया पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्लाह का एक बयान जमकर वायरल...

ऑस्ट्रेलिया में अडानी के खिलाफ एक पुराना विरोध भ्रामक दावे के साथ वायरल हो रहा है। पढ़ें- फैक्ट चेक

भारतीय अरबपति उद्योगपति गौतम शांतिलाल अडानी को लेकर सोशल मीडिया साइट्स पर एक तस्वीर...

क्या राहुल गांधी ने खुद को बताया सबसे बड़ा मूर्ख? पढ़ें, फै़क्ट-चेक

सोशल मीडिया पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी की 21 सेकंड की एक वीडियो क्लिप...

all time popular

More like this

DFRAC Exclusive: Sudarshan News Journalist is a “Sagar” of Disinformation

In Germany, Hitler's minister Joseph Goebbels is said to have mastered propaganda of distorting...

फारूक अब्दुल्लाह ने कहा- मैं मुस्लिम नहीं, कश्मीरी पंडित हूँ?, पढ़ें- फैक्ट चेक 

सोशल मीडिया पर जम्मू-कश्मीर के पूर्व सीएम फारूक अब्दुल्लाह का एक बयान जमकर वायरल...

ऑस्ट्रेलिया में अडानी के खिलाफ एक पुराना विरोध भ्रामक दावे के साथ वायरल हो रहा है। पढ़ें- फैक्ट चेक

भारतीय अरबपति उद्योगपति गौतम शांतिलाल अडानी को लेकर सोशल मीडिया साइट्स पर एक तस्वीर...

क्या राहुल गांधी ने खुद को बताया सबसे बड़ा मूर्ख? पढ़ें, फै़क्ट-चेक

सोशल मीडिया पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी की 21 सेकंड की एक वीडियो क्लिप...

क्या मुसलमानों ने महाराष्ट्र में हिंदू रैली को बाधित करने की कोशिश की थी? पढ़ें-फैक्ट चेक

सोशल मीडिया साइटों पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दो धार्मिक समूह...

इराक में एक पुरानी चट्टान की नक्काशी भ्रामक दावे के साथ वायरल हो रही है। पढ़ें – फैक्ट चेक

सोशल मीडिया पर एक चट्टान की नक्काशी वायरल हो रही है। यह देखा जा...