Digital Forensic, Research and Analytics Center

सोमवार, अक्टूबर 3, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
होमFact Checkसउदी अरब में इस्लाम से पहले हिंदू धर्म था? जानें- सच्चाई

सउदी अरब में इस्लाम से पहले हिंदू धर्म था? जानें- सच्चाई

Published on

Subscribe us

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर एक पुरातात्विक खनन स्थल की कुछ तस्वीरों के साथ एक दावा वायरल हो रहा है। तस्वीर को ट्विटर पर शेयर करते हुए क्वीन ऑफ झांसी ने लिखा, “सऊदी अरब की राजधानी रियाद में 8000 साल प्राचीन शहर, विशाल हिंदू मंदिर, शिलालेख, यज्ञशाला मीनारें, पानी के कुंड और सिंचाई नेहरे मिली. पुरातत्व का कहना है वहा सदैव सूखा रेगिस्तान नहीं था, कर्मकाण्ड पूजापाठ होते थे, नदियां थी। मतलव इस्लाम पूर्व सनातन धर्म था अरब में, अरबी पुरातत्व को धन्यवाद।”

जल्द ही इस पोस्ट को सैकड़ों लाइक्स और रीट्वीट मिल गए। वहीं कई अन्य यूजर्स भी इस पोस्ट को शेयर कर रहे हैं। एक फेसबुक यूजर ने पत्रिका के एक अखबार के साथ ये तस्वीर शेयर की और तस्वीर को कैप्शन दिया- “इस्लाम से पहले सऊदी अरब में कौन-सा धर्म था? इसका जवाब कहीं न कहीं इस बात से मिल सकती है – राजधानी रियाद में 8000 साल प्राचीन शहर मिला.. जिसके चारों और मीनारें पानी कुण्ड, सिचाई, नहर, विशाल मंदिर के शिलालेख व यज्ञशाला मिली है..पुरातत्व के अनुसार वहाँ हमेशा रेगिस्तान नही था..वहाँ कभी कर्मकाण्ड, पूजापाठ इत्यादि हुआ करता था.. यानी यह भी सनातन भूमि थी..”

इसी तरह कई अन्य सोशल मीडिया यूजर्स ने भी इन तस्वीरों को इसी दावे के साथ शेयर किया है।

फ़ैक्ट चेक

वायरल दावे की जांच करते हुए DFRAC टीम को saudigazette.com की वेबसाइट पर अल-फॉ के संदर्भ में एक रिपोर्ट मिली, जो पुरातात्विक खोजों के बारे में थी।

Picture source: www.Saudidazette.com

 

सऊदी अरब में इस उत्खनन के प्रमुख खोज निम्न थे-

 

·       भक्ति शिलालेख – इन संरचनाओं में से एक जबल लहक अभयारण्य है जिसे डब्ल्यूएचबीएलटी ( वहब ) नामक व्यक्ति द्वारा अल- फॉ के देवता कहल को संबोधित किया जाता है। अल्लात ) एमएलएचटी ( मल्हा ) के परिवार से, गुएरा (अल-जरहा शहर) के स्थानीय लोग थे।

· पर्यटक और उनके कारवां के लिए विश्राम स्थलों के रूप में कार्य कर सकते थे।

· कृषि क्षेत्रों में वर्षा जल भंडारण के लिए अल- फॉ के निवासियों द्वारा खोदी गई नहरों, पानी के कुंडों और सैकड़ों गड्ढों सहित जटिल सिंचाई प्रणाली थी।

· कृषि क्षेत्रों की संभावित उपस्थिति जिसमें विभिन्न प्रकार की फसलें उगाई जाती हैं।

· रॉक कला की एक श्रृंखला और माउंट तुवाईक पर अन्य शिलालेख, जिसे खशेमी के नाम से जाना जाता है। यह Qaryah जो अल-Faw के पूर्व थे।

·  पूरे स्थल में अलग-अलग समयावधि की 2,807 कब्रें हैं ।

इस रिपोर्ट में यह भी उल्लेख किया गया है कि शिलालेख अल- फॉ और अल- जरहा के शहरों के बीच एक संबंध को इंगित करता है- प्राचीन व्यापार मार्ग पर अल- फॉ के स्थान को देखते हुए सबसे अधिक संभावना वाणिज्यिक की है। इसका अर्थ या तो दो शहरों के निवासियों के बीच धार्मिक सहिष्णुता या अल-जरहा के कुछ निवासियों द्वारा अल-फॉ के देवता, कहल की पूजा करना हो सकता है ।

यूनेस्को के अनुसार , “अल- फॉ ने पूरे इतिहास में विभिन्न प्रकार के मानव व्यवसायों की मेजबानी की है। जिसमें प्रागैतिहासिक खानाबदोश और अर्ध-खानाबदोश उपस्थिति से लेकर शहरी बस्ती तक जब एक संपन्न प्राचीन कारवां शहर पहली सहस्राब्दी ईसा पूर्व के उत्तरार्ध में विकसित हुआ।”

निष्कर्ष

खुदाई में मिले भक्ति शिलालेख और मंदिर अल- फॉ के देवता से संबंधित हैं। इसलिए, उपयोगकर्ताओं का दावा है कि सऊदी अरब में एक हिंदू मंदिर पाया गया था या इस्लाम से पहले सऊदी अरब में हिंदू धर्म प्रचलित था, इसका कोई आधार नहीं है।

- Advertisement -

भगत सिंह ने फांसी से बच जाने पर पूरा जीवन अंबेडकर के मिशन में लगाने की प्रतिज्ञा ली थी?

Load More

Popular of this week

Latest articles

फैक्ट चेक: क्या पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कोलकाता एयरपोर्ट पर किया गरबा?

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी हमेशा सुर्खियों में रहती हैं, चाहे वे उनके...

फैक्ट चेक: क्या दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेटर वेन पार्नेल ने इस्लाम कबूल कर लिया?

साउथ अफ्रीका के क्रिकेटर वेन पार्नेल की पत्नी और बच्चों के साथ एक तस्वीर...

फैक्टचेक : क्या बीजेपी कार्यकर्ता भी मानते है कि गुजरात में आप का वर्चस्व है?

सोशल मीडिया साइट्स पर एक वीडियो इस दावे के साथ वायरल हो रहा है...

निर्भया केस में सबको फांसी हुई लेकिन एक दोषी मोहम्मद अफरोज बच गया? पढ़ें- फैक्ट चेक

सोशल मीडिया साइट्स पर एक दावा किया जा रहा है कि निर्भया केस में...

all time popular

More like this

फैक्ट चेक: क्या पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने कोलकाता एयरपोर्ट पर किया गरबा?

पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी हमेशा सुर्खियों में रहती हैं, चाहे वे उनके...

फैक्ट चेक: क्या दक्षिण अफ्रीका के क्रिकेटर वेन पार्नेल ने इस्लाम कबूल कर लिया?

साउथ अफ्रीका के क्रिकेटर वेन पार्नेल की पत्नी और बच्चों के साथ एक तस्वीर...

फैक्टचेक : क्या बीजेपी कार्यकर्ता भी मानते है कि गुजरात में आप का वर्चस्व है?

सोशल मीडिया साइट्स पर एक वीडियो इस दावे के साथ वायरल हो रहा है...

निर्भया केस में सबको फांसी हुई लेकिन एक दोषी मोहम्मद अफरोज बच गया? पढ़ें- फैक्ट चेक

सोशल मीडिया साइट्स पर एक दावा किया जा रहा है कि निर्भया केस में...

राजस्थान सरकार ने नवरात्रि पर हिन्दू मंदिर में पूजा पर लगाया प्रतिबंध? पढ़ें- फैक्ट चेक 

हिन्दू धर्म का पवित्र पर्व नवरात्रि है। नवरात्रि के अलग-अलग दिनों में देवी माता...

फैक्ट चेकः AAP जिलाध्यक्ष को पत्नी ने दूसरी महिला के साथ पकड़ा, जमकर की पिटाई?

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक महिला अपने पति...