Digital Forensic, Research and Analytics Center

मंगलवार, अगस्त 9, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
होमFact Checkफैक्ट चेकः ABP न्यूज और BJP नेता ने 2020 का पुराना वीडियो...

फैक्ट चेकः ABP न्यूज और BJP नेता ने 2020 का पुराना वीडियो कानपुर दंगे का बताकर किया शेयर

Published on

Subscribe us

कानपुर में 3 जून 2022 को जुमे की नमाज के बाद दो समुदायों में हिंसक झड़प हो गई। इस दौरान पत्थरबाजी की भी घटनाएं सामने आईँ। इन घटनाओं को लेकर सोशल मीडिया पर कई फोटो और वीडियो वायरल हो रहे हैं। इन वीडियो और फोटो में कई ऐसे हैं, जो पुरानी घटनाओं के हैं, लेकिन इन्हें वीडियो को कानपुर (Kanpur) का बताकर शेयर किया जा रहा है।

इस तरह की भ्रामक सूचनाएं फैलाने में सिर्फ सोशल मीडिया यूजर्स ही नहीं शामिल हैं बल्कि मेनस्ट्रीम मीडिया के बड़े चैनल भी पुराने वीडियो को कानपुर (Kanpur) का बताकर न्यूज चला रहे हैं। एबीपी न्यूज द्वारा ऑफिशियल फेसबुक लाइव में एक वीडियो चलाया गया है। इसमें देखा जा सकता है कि एबीपी न्यूज के फेसबुक पेज से पुरानी वीडियो को कानपुर के नाम से खबर प्रसारित किया गया है। वहीं इस तरह की भ्रामक वीडियो को शेयर करने वालों में बीजेपी के नेता भी शामिल हैं, जो वेरीफाइड यूजर हैं।

दावा-

एबीपी न्यूज के ऑफिशियल पेजबुक से 4 जून 2022 को लाइव चलाया गया है। इस लाइव को शीर्षक- “कानपुर हिंसा के पीछे किसकी साजिश?…देखें बड़ी खबर LIVE” दिया गया है। इस वीडियो में कानपुर (Kanpur) दंगे को लेकर एक वीडियो को चलाया जा रहा है। इस वीडियो में देखा जा सकता है कि कुछ पुलिसवाले कुछ लोगों की पिटाई कर रहे हैं।

facebook screenshot

इसी वीडियो को कई सोशल मीडिया यूजर्स द्वारा भी कानपुर दंगे का बताकर शेयर किया जा रहा है। ट्विटर पर लक्ष्मीकांत भारद्वाज का वेरीफाइड हैंडल हैं। उन्होंने इस वीडियो को शेयर करते हुए लिखा- “कानपुर (Kanpur) में शांतिदूत दंगा कर रहे थे , पूरी रात योगी जी ने इलाज जारी रखा.. @ashokgehlot51 जी, अगर आप करौली में ये कर लेते तो जोधपुर में दंगा करने की इनकी हिम्मत नहीं होती।” आर्काइव लिंक ये रहा।

tweet screenshot

लक्ष्मीकांत भारद्वाज के बायो के मुताबिक वह राजस्थान बीजेपी के पूर्व प्रवक्ता रह चुके हैं। इसके अलावा वह बीजेपी के कई महत्वपूर्ण पदों पर भी रहे चुके हैं।

वहीं इस वीडियो को शेयर करते हुए फेसबुक पर ‘Aap Banarasi Hain’ नामक यूजर ने लिखा- “कानपुर (Kanpur) में जुमे की नमाज के बाद बमबाजी करने वाले अतीउत्साही लौंडों की आह-आह की आवाज कल देर रात तक आती रही..”

facebook screenshot
facebook screenshot

फैक्ट चेकः

एबीपी न्यूज और बीजेपी नेता लक्ष्मीकांत भारद्वाज सहित सोशल मीडिया यूजर्स द्वारा शेयर किए गए वीडियो की सत्यता की जांच के लिए हमने वीडियो के कुछ फ्रेम्स का स्क्रीन शॉट लेकर उसे रिवर्स सर्च किया। सर्च करने पर हमें एक ट्विटर पर पोस्ट किए गए एक वीडियो का लिंक मिला।

इस वीडियो को शिवांशु भारद्वाज नामक यूजर द्वारा 3 अप्रैल 2020 को ट्विटर पर पोस्ट किया गया था। उन्होंने कैप्शन लिखा था- “इंदौर का वही मोहल्ला है जहां डॉक्टरों को पत्थर मारे गए थे। क्रिया की प्रतिक्रिया होती हुई। कमजोर दिल वाले आवाज बंद कर के वीडियो देखें।”

tweet screenshot

निष्कर्षः

एबीपी न्यूज और बीजेपी नेता लक्ष्मीकांत भारद्वाज द्वारा शेयर किए गए इस वीडियो का फैक्ट का चेक करने के बाद यह साबित होता है कि वायरल वीडियो 2020 में हुई इंदौर की एक घटना का है। इस वीडियो का कानपुर (Kanpur) के दंगे से कोई संबंध नहीं है। इसलिए एबीपी न्यूज, बीजेपी नेता लक्ष्मीकांत भारद्वाज और अन्य सोशल मीडिया यूजर्स द्वारा किया जा रहा दावा भ्रामक है। इसका सच्चाई से कोई वास्ता नहीं है।

दावा- कानपुर (Kanpur) दंगे में पुलिस द्वारा दंगाईयों की पिटाई

दावाकर्ता- एबीपी न्यूज और बीजेपी नेता सहित अन्य यूजर्स

फैक्ट चेक- भ्रामक

 (आप #DFRAC को ट्विटरफ़ेसबुकऔर यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)

 

Popular of this week

Latest articles

फैक्ट चेक: क्या आरएसएस कार्यकर्ता ने जलाया भारत का राष्ट्रीय ध्वज?

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है। जिसमे एक शख्स को भारत...

क्या इंग्लैंड के राजा के गुणगान में लिखा गया था राष्ट्रगान ? पढ़ें, फ़ैक्ट-चेक 

सोशल मीडिया पर राष्ट्रगान को लेकर यूज़र्स द्वारा दावा किया जा रहा है कि...

फैक्ट चेक- तमिलनाडु के ईसाई सीएम MK स्टालिन ने ढहाया शिव मंदिर? 

सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में...

फैक्ट चेक: जगदीप धनखड़ देश के 16वें नहीं बल्कि 14वें उपराष्ट्रपति बने, पत्रिका ने चलाई गलत ख़बर

देश के प्रमुख राष्ट्रीय समाचार पत्रों में से एक पत्रिका ने जगदीप धनखड़ को...

all time popular

More like this

फैक्ट चेक: क्या आरएसएस कार्यकर्ता ने जलाया भारत का राष्ट्रीय ध्वज?

सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है। जिसमे एक शख्स को भारत...

क्या इंग्लैंड के राजा के गुणगान में लिखा गया था राष्ट्रगान ? पढ़ें, फ़ैक्ट-चेक 

सोशल मीडिया पर राष्ट्रगान को लेकर यूज़र्स द्वारा दावा किया जा रहा है कि...

फैक्ट चेक- तमिलनाडु के ईसाई सीएम MK स्टालिन ने ढहाया शिव मंदिर? 

सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में...

फैक्ट चेक: जगदीप धनखड़ देश के 16वें नहीं बल्कि 14वें उपराष्ट्रपति बने, पत्रिका ने चलाई गलत ख़बर

देश के प्रमुख राष्ट्रीय समाचार पत्रों में से एक पत्रिका ने जगदीप धनखड़ को...

फैक्ट चेकः हिन्दूओं ने गांव में बसाया था 1 मुस्लिम, अब मुस्लिम बाहुल्य हुआ गांव, हिन्दू कर गए पलायन?

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट तेजी से वायरल हो रहा है। इस पोस्ट को...

पैगंबर मुहम्मद की आड़ में भारत विरोधी एजेंडे का अंतर्राष्ट्रीय अभियान

पैगंबर मुहम्मद (ﷺ) का इस्लाम धर्म में अल्लाह के बाद सर्व्वोच स्थान है। दुनिया...