Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेक: क्या बीजेपी ने AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के घर के पास बनाई ‘स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी’?

सोशल मीडिया पर एक दावा बड़े पैमाने पर वायरल हो रहा है। जिसमे कहा गया कि बीजेपी सरकार ने ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी के घर के पास में दुनिया की सबसे ऊंची हिंदू मूर्ति बनाई है।

इस दावे को सबसे पहले एनआईओ टाइम्स ने 04 जनवरी 2022 को अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट किया था। इस पोस्ट को 100k+ लाइक और लगभग 28k शेयर मिल चुके है।

इसके अलावा एनआईओ टाइम्स ने अपने यूट्यूब चैनल पर भी 07 जनवरी, 2022 को ‘मोदी ने ओवैसी के घर के बगल में दुनिया की सबसे ऊंची हिंदू संत की मूर्ति का निर्माण करवाया’ के शीर्षक के साथ वीडियो क्लिप पोस्ट की। जिसे बाद में हटा लिया गया।

फैक्ट चेक:

उपरोक्त दावे की पड़ताल करने पर हमारी टीम को दैनिक भास्कर की एक रिपोर्ट मिली। जिसमे बताया गया कि स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी और रामानुजाचार्य टेंपल हैदराबाद से करीब 40 किमी दूर रामनगर में बनाया जा रहा है। मंदिर का मूल भवन करीब 1.5 लाख स्क्वेयर फीट के क्षेत्र में बन रहा है। जो 58 फीट ऊंचा है। इसी पर स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी रखी गई है।

स्टैच्यू ऑफ इक्वेलिटी की आधिकारिक वेबसाइट से भी पता चलता है कि इस 1000 करोड़ की परियोजना की परिकल्पना वर्ष 2014 में की गई थी। स्टैच्यू ऑफ इक्वेलिटी का निर्माण श्रीरामनगर, समशाबाद, हैदराबाद, भारत में जीवा आश्रम के निकट किया जाएगा। वहीं असदुद्दीन ओवैसी का घर हैदरगुडा, हैदराबाद में है।

अत: AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी के घर के पास ‘स्टैच्यू ऑफ इक्वलिटी’ बनाए जाने का दावा झूठा और निराधार है।