Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेकः क्या पीएम मोदी ने दिव्यांग IAS आरती डोगरा के छुए पैर?

सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रहा है। इस फोटो में दिख रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक दिव्यांग महिला के पैर छु रहे हैं। इस फोटो को सोशल मीडिया पर शेयर करके लोग दावा कर रहे हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने वाराणसी दौरे के दौरान काशी विश्वनाथ कॉरीडोर का उद्घाटन किया। इस दौरान उन्होंने दिव्यांग आईएएस आरती डोगरा के पैर छुए। ये लोग ये भी दावा कर रहे हैं कि आरती डोगरा काशी विश्वनाथ कॉरीडोर की मुख्य वास्तुकार रही हैं।

ट्वीट

बीजेपी प्रवक्ता शाइना एनसी ने अपने ट्विटर हैंडल पर लिखा- ‘काशी विश्वनाथ कॉरिडोर के उद्घाटन के मौके पर पीएम मोदी ने IAS आरती डोगरा के पैर छुए और उनसे आशीर्वाद लिया।’

इस दावे को ट्वीटर, फेसबुक सहित सोशल मीडिया के विभिन्न प्लेटफॉर्म्स पर शेयर किया जा रहा है।

फैक्ट चेकः

न्यूज़ 18 की रिपोर्ट

वायरल हो रहे इस फोटो की पड़ताल के लिए हमारी टीम ने गूगल रिवर्स सर्च किया। इस दौरान हमें 14 दिसंबर को न्यूज़18 द्वारा प्रकाशित खबर का एक लिंक मिला। खबर के मुताबिक पीएम मोदी 13 और 14 दिसंबर को वाराणसी दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने काशी विश्वनाथ कॉरीडोर का उद्घाटन किया।

रिपोर्ट के मुताबिक कार्यक्रम के दौरान शिखा रस्तोगी नाम की एक दिव्यांग महिला पीएम मोदी से मिलने आई थी। महिला ने पीएम मोदी के पैर छुने की कोशिश की। तभी प्रधानमंत्री ने महिला को रोक दिया और खुद उनके पैर छुने के लिए झुक गए। प्रधानमंत्री ने इस दौरान महिला का हाल चाल भी जाना।

इस फैक्ट चेक से साबित होता है कि पीएम मोदी ने दिव्यांग महिला शिखा रस्तोगी के पैर छुए थे। यह महिला आईएएस आरती डोगरा नहीं थी। इसलिए बीजेपी प्रवक्ता शाइना एनसी सहित तमाम सोशल मीडिया यूजर्स द्वारा किया जा रहा दावा झूठा और भ्रामक है।