Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेक: असम के सीएबी आंदोलन का वीडियो मथुरा के नाम से किया वायरल

हाल ही में उत्तर प्रदेश के मथुरा में ईदगाह और कृष्ण जन्मभूमि को लेकर तनाव हो गया था, जिसके बाद सोशल मीडिया पर कई वीडियो तेज़ी से वायरल हुए। इसी क्रम में फेसबुक पर दीपक गुप्ता अयोध्यावासी नामी यूजर ने वायरल वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है कि हिन्दुओं की एकता अब रंग ला रही है। सनातनी अब एक हो रहे है। उसकी एक झलक मथुरा में जब मथुरा में कृष्ण भक्तों ने बेरीकेटिंग तोड़ दी। जय श्री कृष्णा। हर हर महादेव।

यूजर की पोस्ट

इस वीडियो को कई अन्य यूजर्स ने भी लगभग ऐसे ही दावे के साथ पोस्ट किया।

फैक्ट चेक

वायरल दावे का सच जानने के लिए हमने गूगल पर कुछ कीवर्ड्स के माध्यम से सर्च करना शुरू किया। इस दौरान हमें वायरल वीडियो से जुड़ी एक पोस्ट न्यूज वेबसाइट Inside Northeast के फेसबुक अकाउंट पर मिली, यह पोस्ट 12 दिसंबर 2019 को की गई थी। पोस्ट में दी गई जानकारी के मुताबिक, वायरल वीडियो असम के नगांव का है।

पड़ताल के दौरान हमें वायरल वीडियो से जुड़े कुछ ट्वीट असम के पत्रकार रितुपर्णा भुयान और Dr. Kumud Das के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर मिले, ये ट्वीट्स भी 12 दिसंबर 2019 को किये गए थे। ट्वीट में दी गई जानकारी के मुताबिक, नगांव शहर के लोगों ने नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ सड़कों पर उतकर प्रदर्शन किया गया था। ये वीडियो उसी दौरान का है।

इसलिये अपनी पड़ताल के बाद हम इस नतीजे पर पहुंचे कि जिस वीडियो को मथुरा का बताकर पोस्ट किया जा रहा है, वह वीडियो मथुरा का नहीं बल्कि असम का है, और इस वर्ष का नहीं बल्कि दो वर्ष पुराना है। इसलिये यह दावा झूठा है।