Digital Forensic, Research and Analytics Center

शनिवार, जून 25, 2022
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
होमOpinionDFRAC विशेषः सोशल मीडिया पर लोगों से वर्चुअल जंग लड़ती है चीनी...

DFRAC विशेषः सोशल मीडिया पर लोगों से वर्चुअल जंग लड़ती है चीनी ट्विटर सेना!

Published on

Subscribe us

चीन एक ऐसा देश जो खुद को दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र कहता है। हालांकि वह जनता की राय को नियंत्रित करने के लिए एक परिष्कृत प्रयास के तौर पर पेड “इंटरनेट कमेंटेटर” का भरपूर उपयोग करता है। ये इंटरनेट कमेंटेटर जिन्हें पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना के अधिकारियों द्वारा काम पर रखा गया है, जनता की राय में हेरफेर करते हैं और चीनी कम्युनिस्ट पार्टी (CCP) के लाभ के लिए दुष्प्रचार और प्रोपेगैंडा का प्रसार और प्रचार करते हैं।

अपने इस मकसद की पूर्ति के लिए पीपुल्स रिपब्लिक ऑफ चाइना ने एक बड़ी और विशाल सोशल मीडिया सेना बनाई है। चीन द्वारा रखे गए इन पेड व्यक्तियों को सौंपी गई भूमिकाओं के आधार पर इस सेना को वर्गीकृत किया जा सकता है।

Categorization of China’s Social Media Army on the basis of roles assigned to them.

वुमाओ या 50 सेंट पार्टी या 50 सेंट आर्मी

यह नाम इस तथ्य से लिया गया है कि ऐसे टिप्पणीकारों को प्रत्येक पोस्ट के लिए RMB¥0.50 का भुगतान किया जाता है। इनमें से कुछ टिप्पणीकारों ने खुद को ज़िगानवू का लेबल दिया है। इन लोगों ने दावा किया है कि उन्हें चीनी अधिकारियों द्वारा भुगतान नहीं किया जाता है और वह अपनी इच्छा से चीनी सरकार के लिए अपना समर्थन व्यक्त करते हैं। यह चीन में व्यापक जनता के लिए इंटरनेट के रोलआउट के शुरुआती चरणों के दौरान बनाया गया था। इस सेना को सौंपी गई मुख्य भूमिकाएँ थीं,

– लोकप्रिय चीनी सोशल मीडिया नेटवर्क पर टिप्पणियां या लेख बनाना, जिनका उद्देश्य सीसीपी की आलोचनात्मक चर्चाओं को मेनस्ट्रीम से हटाना है।

कुछ अकाउंट जो इस श्रेणी में आते हैं, जो नीचे दिए गए हैं:

  1. काइल (@KyleTrainEmoji): मार्च 2016 में बनाए गए इस अकाउंट में चीन से संबंधित सभी सकारात्मक सामग्री शेयर की जाती है, जो चीनी सरकार के पक्ष में माहौल बनाती है।

उदाहरण के लिए, यह साबित करने के लिए ट्विटर पर एक थ्रेड पोस्ट किया कि चीन में कोई मस्जिद नहीं तोड़ी गई है।

Thread by Kyle on Mosque

इस अकाउंट ने एक ट्वीट भी पोस्ट किया है, जिसमें कहा गया है कि चीन ने श्रीलंका को कर्ज में नहीं फंसाया है।

Tweet by Kyle to justify that China has not debt trapped Sri Lanka
  • Arnaud Bertrand (@RnaudBertrand): मई 2009 में 7 हजार फॉलोवर्स के साथ बनाया गया यह अकाउंट, जो चीन से संबंधित सकारात्मक सामग्री शेयर करता है।

उदाहरण के लिए देखिए कि यह अकाउंट चीन से संबंधित सकारात्मक सामग्री को रीट्वीट भी करता है

Tweet by Arnaud Bertrand sharing positive content related to China

यह अकाउंट चीन के बारे में किए जा रहे नकारात्मक प्रचारों का मुकाबला भी करता है। शिनजियांग प्रांत में किए जा रहे जबरन श्रम को एक नई कहानी देता है। यह अकाउंट कहता है कि शिनजियांग की अर्थव्यवस्था में बेरोजगारी और तबाही लाने की अमेरिका की योजना थी।

Tweet by Arnaud countering the negativity about China
  • China Says (@China_says): अक्टूबर 2017 में बनाया गया यह अकाउंट अपनी वेबसाइट पर चीन के समर्थन में न्यूज कंटेंट पोस्ट करता है, जो चीन के पक्ष में है और सीसीपी की आलोचनात्मक चर्चाओं पर कटाक्ष करता है।

सरकार के हितों की रक्षा करने वाले कंटेंट को बढ़ावा देना। चीनी अकाउंट जो इस तरह के आख्यान शेयर करते हैं, वे नीच दिए गए हैं:

  1. LiuXM-XJ-5.0(@XMLisbk05): शिनजियांग के रूप में निर्दिष्ट स्थान के साथ यह अकाउंट जून 2021 में बनाया गया था, जो आमतौर पर उइगर मुस्लिमों को चीन में संतुष्ट और खुश दिखाने के लिए सोशल मीडिया पर सामग्री डालता है।

उदाहरण, शिनजियांग लोक संस्कृति दिखाने वाला अकाउंट

LiuXM-XJ-5.0 tweeted video of Xinjiang Folk Culture

यह अकाउंट शिनजियांग चैनल (चीन शिनजियांग वेबसाइट का सत्यापित आधिकारिक ट्विटर अकाउंट) की सामग्री को भी रीट्वीट करता है, जो शिनजियांग प्रांत की सकारात्मक सामग्री को बढ़ावा देता है और पर्यवेक्षकों के दिमाग को उइगर उत्पीड़न से हटाता है।

LiuXM-XJ-5.0 retweets positive content related to China
  1. Gülnar (@GulnarNorthwest): शिनजियांग के रूप में निर्दिष्ट स्थान के साथ यह अकाउंट दिसंबर 2019 को बनाया गया था। जिसमें 6 हजार से ज्यादा फॉलोवर्स हैं, यह शिनजियांग के बारे में सकारात्मक सामग्री को बढ़ावा दे रहा है कि उइगर यहां सामान्य जीवन जी रहे हैं।

उदाहरण के लिए, इस अकाउंट से उइगर परंपरा और उसकी संस्कृति को दिखाने वाला वीडियो पोस्ट किया जाता है।

ट्वीट:

Gulnar tweet about Uyghur culture and tradition

यह अकाउंट चीन के खिलाफ सोशल मीडिया किए जाने वाले नकारात्मक पोस्टों का का जवाब भी देता है।

Tweet by Gulnar to counter the negativity about China

चीनी सरकार के राजनीतिक विरोधियों के बारे में घरेलू और विदेश दोनों में अपमानजनक ट्वीट करना या गलत सूचना फैलाना।

उदाहरण के लिए- काइल नाम की अकाउंट अमेरिका का अपमान कर रही है और चीन की तारीफ कर रही है। 

Tweet by Kyle insulting US and praising China

यह अन्य अकाउंट भी चीनी प्रोपेगैंडा में लगे हुए हैं- ShanghaiPanda(@thinking_panda), Dai Weiwei (@WEIWEIDAI4), Nury Vittachi(@NuryVittachi)

लिटल पिंक

2016 में लिटिल पिंक चीन में साइबर-राष्ट्रवाद की एक नई लहर के रूप में उभरा है। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी के आधिकारिक समाचार पत्र पीपुल्स डेली और इसके दैनिक अखबार ग्लोबल टाइम्स दोनों ने लिटिल पिंक की प्रशंसा की है, जैसा कि चीन की कम्युनिस्ट यूथ लीग ने किया है। इस समूह ने उन लोगों की कड़ी आलोचना की जिन्होंने चीन के बारे में नकारात्मक समाचार वाले पोस्ट प्रकाशित किए।

उदाहरण: संयुक्त राज्य अमेरिका में मैरीलैंड विश्वविद्यालय में अपने स्नातक दिवस पर चीनी छात्र यांग शुपिंग की टिप्पणी यकीनन सहज थी। उसने रविवार को अपने गृह नगर में धुंध के बारे में मजाक किया और अमेरिका में मिली आजादी की प्रशंसा की। हालाँकि, उनकी टिप्पणियों ने चीन में एक बड़ी प्रतिक्रिया पैदा कर दी क्योंकि इंटरनेट उपयोगकर्ताओं ने उन पर सच्चाई को विकृत करने और अपने देश की हैसियत को कम करने का आरोप लगाया।

कुछ अकाउंट जो चीन के बारे में नकारात्मक खबरों पर कड़ी टिप्पणियां करते हैं, वे नीचे दिए गए हैं:

  • Azeem Khan (@mazeemkhan1974): जून 2021 में बनाया गया यह अकाउंट खुद को एक चीनी उइगर पाकिस्तानी के रूप में वर्णित करता है। यह अकाउंट ज्यादातर उन लोगों को टारगेट करता है, जो चीन में उइगरों के उत्पीड़न और उनके अधिकारों के लिए बोलते हैं।
Tweet by Azeem Khan countering people who speak for the human rights violations on Uyghurs in China
  • Jerry’s China (@Jerry_grey2002): दिसंबर 2015 में बनाया गया एक अकाउंट ज़ोंगशान, ग्वांगडोंग के स्थान के रूप में वर्णित है। इसके 8 हजार फॉलोवर्स हैं और यह चीन के बारे में सकारात्मक सामग्री पोस्ट करता है और उन लोगों को टारगेट करता है, जो चीन के बारे में नकारात्मक बोलते हैं।
Tweet by Jerry’s China countering people who want to prove that the mosques are being demolished in China
Tweet by Jerry’s China countering those who gave a status of country to Taiwan
  • @roachJail: अक्टूबर 2021 में बनाया गया यह अकाउंट चीन के खिलाफ पोस्ट करने वाले लोगों के अकाउंट की रिपोर्ट करने और उन्हें ब्लॉक करने की सलाह देता है। उदाहरण के लिए फ्रीडम फॉर हॉन्ग कॉन्ग और चीन विरोधी सामग्री के लिए ट्वीट करने वाले अकाउंट को आमतौर पर ब्लॉक करने की सलाह दी जाती है।
Tweet by @roachJail to report and block an account.
Tweet by @roachJail to report and block another account

वहीं ये दूसरे अकाउंट भी इसी तरह की चीजें करते रहते हैं- IIINSULA 西遼 (@suidaila), 只喝白开水self (@zhehebaikaishui),  

Internet Water Army or wangluo shuijun

इंटरनेट वाटर आर्मी या वांगलुओ शुइजुन

चीन में इंटरनेट पर, एक इंटरनेट वाटर आर्मी या वांग्लुओ शुइजुन इंटरनेट घोस्ट राइटर्स का एक समूह है जिसे विशेष सामग्री के साथ ऑनलाइन टिप्पणियां पोस्ट करने के लिए भुगतान किया जाता है। इंटरनेट पर इस तरह की पेड समूहों का जन्म 2010 की शुरुआत में हुआ था। ये पेड सोशल मीडिया अकाउंट्स चीन के ईबे जैसे प्लेटफॉर्म Weibo, WeChat और Taobao जैसे कुछ ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर समाचार, टिप्पणियां, गपशप और दुष्प्रचार पोस्ट कर सकते हैं। जनसंपर्क और मीडिया हेरफेर के लिए इस “एस्ट्रोटर्फिंग” (जिसका अर्थ है “कृत्रिम घास-मूल”) तकनीक में, ऑनलाइन चीनी कंपनियां जनता की राय बदलने के लिए सोशल मीडिया पर पोस्टिंग करने के लिए लोगों को नियुक्त करती हैं। इसे एक उद्योग के रूप में विकसित किया गया है, जिसमें इंटरनेट पर एक समूह सेना में विशेषज्ञता वाली कंपनी तीन महीने के भीतर 7.6 मिलियन आरएमबी कमा सकती है।

यह एक खुला रहस्य है कि चीन सरकार की प्रशंसा करने और अपने आलोचकों पर हमला करने के लिए इंटरनेट कमेंटेटरों की एक वास्तविक सेना नियुक्त करता है और यह इस रिपोर्ट में भी स्पष्ट रूप से देखा जा सकता है। ये कुछ ही अकाउंट्स हैं जिनका इस रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है लेकिन वास्तव में चीन के वूमाओ, लिटिल पिंक और इंटरनेट वाटर आर्मी में हजारों और लाखों सदस्य हैं।

DFRAC Editor
DFRAC Editorhttps://dfrac.org
Digital Forensics, Research and Analytics Centre (DFRAC) is a non-partisan and independent media organisation which focuses on fact-checking and identifying hate speech. With the popularisation of the internet came the challenge of information overload and often times, our feeds are overpopulated with conflicting, incendiary and false information which is increasingly becoming difficult to ignore and not believe in

Popular of this week

Latest articles

महाराष्ट्र में शिवसेना और NCP कार्यकर्ताओं के बीच हुई हाथापाई और मारपीट?, पढ़ें- फैक्ट चेक

महाराष्ट्र में शिवसेना अपने विधायकों की बगावत से जूझ रही है। पार्टी के कई...

पूर्व राष्ट्रपति पाटिल के PM मोदी की तारीफ़ करने का फ़र्ज़ी दावा वायरल 

सोशल मीडिया पर एक पोस्ट जमकर वायरल हो रहा है। इस पोस्ट मे दावा...

फैक्ट चेकः Samajwadi Party नेता ने लिसिप्रिया कंगुजम को विदेशी बताने के पीछे मीडिया को ठहराया दोषी

ताजमहल को लेकर Samajwadi Party के डिजिटल मीडिया कोआर्डिनेटर मनीष जगन अग्रवाल ने एक...

फैक्ट चेक: Aaditya Thackeray को लेकर ज़ी न्यूज, इंडिया TV सहित कई मीडिया चैनलों ने फैलाया झूठ

महाराष्ट्र में शिवसेना के अंदर गतिरोध जारी है। पार्टी के कई विधायक एकनाथ शिंदे...

all time popular

More like this

पाकिस्तान का इन्फ़ोवॉर : ‘हिजाब’ के पीछे से कायराना हमला

भारत के ख़िलाफ़ पाकिस्तान की नफ़रत के कई रंग हैं। यह सीमा पर, सीमा...

DFRAC विशेषः हरनाज कौर संधू के फेक अकाउंट की जाल में फंसे ट्वीटर यूजर्स

चंडीगढ़ की हरनाज कौर संधू ने 13 दिसंबर को 21 साल की उम्र में...

मुस्लिम ब्रदरहुड और भारत : सोशल मीडिया और सच्चाई के बीच का ताल्लुक़

मुस्लिम ब्रदरहुड यानी ‘इख़्वानुल मुस्लमीन’ यानी एमबी दुनिया में पॉलिटिकल इस्लाम यानी इस्लामी ख़िलाफ़त...

सीजे वर्लमैन कौन हैं?

सीजे वर्लमैन(CJ Werleman) खुद को Byline Times का वैश्विक संवाददाता बताते हैं। वह दावा...

GoDaddy पर संक्ट 1.2 मिलियन से अधिक वर्डप्रेस वेबसाइट के मालिक प्रभावित

GoDaddy एक विशाल इंटरनेट इन्फ्रास्ट्रक्चर कंपनी है जो इंटरनेट व्यवसायों को सेवाएं प्रदान करती...

Once Modi’s supporters have become his opponents.

On November 19, 2021 i.e. Guru Nanak Jayanti, PM Narendra Modi made a big...