Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फेक्ट चेक: वायरल वीडियो नागालैंड विरोध-प्रदर्शन का नहीं, किया जा रहा झूठा दावा

हाल ही में नागालैंड में कथित तौर पर सेना की गोलीबारी में कुछ लोगों की मौत हो गई। जिसके बाद वहाँ उग्र विरोध-प्रदर्शन भी हुए और सुरक्षा बलों के वाहनों को क्षतिग्रस्त करने की पुष्टि हुई है। इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। जो सेना और प्रदर्शनकारियों के बीच झड़प का बताया जा रहा है।

ट्विटर यूजर News Network 24×7 ने वायरल वीडियो को शेयर करते हुए लिखा है कि #नगालैंड के #तुएनसांग शहर में #सोम जिले में 6 कोयला खदान श्रमिकों सहित 13 नागरिकों की हत्या के विरोध में आगजनी ! #Nagaland

यूजर का ट्वीट

फेक्ट चेक:

वायरल वीडियो से जुड़े कुछ कीवर्ड्स सर्च करने पर हमे इस तरह का VIDEO मिला। जिसे Lenio Krichena नामक एक पत्रकार ने ट्वीट किया। ट्वीट में बताया गया कि, वीडियो 5 दिसंबर को शॉर्ट सर्किट के कारण तुएनसांग में लगी आग का है। आग से कुछ दुकानों को नुकसान हुआ। वीडियो का नगालैंड में विरोध प्रदर्शन से कोई सबंध नहीं है।

इसके अलावा तुएनसांग पुलिस ने भी अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से ट्वीट कर VIDEO के तुएनसांग में शॉर्ट सर्किट के कारण लगी आग की घटना की पुष्टि की है।
अत: VIDEO भ्रामक और झूठे दावे के साथ शेयर किया गया है।