Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेकः क्या अलीगढ़ में धर्मांतरण के लिए नाबालिग हिन्दू बच्चों का किया जाता है ब्रेनवॉश?

27 सितंबर 2021 को सुदर्शन न्यूज़ के पत्रकार रजत मिश्रा ने एक वीडियो पोस्ट किया। जिसमें दावा किया गया कि अलीगढ़ में एक हिंदू परिवार का मुस्लिम धर्म में धर्मांतरण हो रहा है। कैप्शन में उनका दावा है कि तस्वीर में दिख रहे लड़के का ब्रेनवॉश किया गया था, ताकि उसको हिंदू से मुस्लिम में बदलने की कोशिश की जा सके। लड़के के कम उम्र के होने की जानकारी होने के कारण उसके चेहरे पर नकाब रखा गया है।

वीडियो में लड़के को किसी से बात करते हुए देखा जा सकता है कि जब तक वह मुस्लिम नहीं होगा तब तक वह स्वर्ग नहीं जा पाएगा। यह पूछे जाने पर कि वह हिंदुओं को इस्लाम में क्यों परिवर्तित करना चाहता है, लड़के के पास स्पष्ट उत्तर नहीं है। इस वीडियो को 2,800 बार देखा जा चुका है और इसे 285 लाइक्स मिले हैं।

फैक्ट चेकः

रजत मिश्रा द्वारा लगाए गए आरोप काफी गंभीर प्रकृति के हैं। इसलिए इस संदर्भ में अलीगढ़ पुलिस ने वीडियो की जानकारी इकट्ठा कर इसपर मामला दर्ज किया था। अलीगढ़ पुलिस के मुताबिक वीडियो में दिख रहे दोनों लड़के एक ही संप्रदाय के हैं। वीडियो में दिख रहा लड़का और सवाल पूछने वाला दोनों नाबालिग हैं, इसलिए उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया।

चूंकि दोनों लड़के एक ही धर्म के थे, इसलिए रजत मिश्रा द्वारा किया गया दावा झूठा और भ्रामक है। हमने पहले सुदर्शन न्यूज द्वारा किए गए कई दावों की तथ्य जांच की है। हमने दो अलगअलग रिपोर्टों में भी विश्लेषण किया है कि कैसे सुदर्शन न्यूज अधिक आकर्षण हासिल करने के लिए सांप्रदायिक नफरत का उपयोग करता है।