Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट-चेक: केजरीवाल एक कार्यक्रम में शामिल हुए जहां सैकड़ों लोगों को ईसाई बनाया गया था

20 अगस्त,2021 को @noconversion द्वारा जाने वाले एक ट्विटर यूजर ने एक वीडियो पोस्ट किया जिसमें दावा किया गया कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में एक ईसाई समुदाय के धर्मांतरण कार्यक्रम में शिरकत की, जहां सैकड़ों लोगों को ईसाई धर्म में परिवर्तित किया गया था।
इस वीडियो को 3,500 लाइक्स और 2,400 रीट्वीट के साथ 32,000 से अधिक बार देखा जा चुका है। जिस ट्वीटर अकाउंट से यह वीडियो पोस्ट किया है उसके दो लाख से अधिक फॉलोअर्स हैं।

फैक्ट-चेक:

वीडियो के मुख्य फ्रेम और वीडियो में इस्तेमाल किए गए बैनर में उल्लिखित कीवर्ड की रिवर्स सर्च करने पर, हमने पाया कि मूल वीडियो पहली बार 5 सितंबर, 2015 को ईसाई धर्म प्रचाकर डेनियल मोहन सिंह के यूट्यूब चैनल पर पोस्ट किया गया था। मूल वीडियो तक़रीबन 7 मिनट का है जिसमें सीएम को एक-एक मिनट के लिए दिखाया गया है। इस बात का कोई सबूत नहीं मिला कि घटना में कोई बातचीत हुई थी। हमने सिंह के प्रोफाइल में देखा और पाया कि वह एक यात्रा करने वाले प्रचारक हैं जो पूरे देश में ईसाई धर्म का प्रचार करते हैं। हमारे द्वारा खोजे गए सभी दस्तावेज़ों में धर्मांतरण का कोई सबूत नहीं मिला।

मूल वीडियो

इसके अलावा, हमने वेबसाइट पर उपलब्ध कराए गए हेल्पलाइन नंबर पर आम आदमी पार्टी से संपर्क किया, जहां एक पार्टी कार्यकर्ता ने इस दावे को पूरी तरह से नकार दिया है। मुख्यमंत्री इस कार्यक्रम में गए थे लेकिन यह समुदाय के बीच शांति को बढ़ावा देने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम मात्र था। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि इस वीडियो को 23 जुलाई,2021 को भी इसी हैंडल से पोस्ट किया गया था, लेकिन इसे उतने व्यूज नहीं मिले। हमारी पड़ता में सामने आया कि यह वीडियो झूठा और भ्रामक है।