Skip to content Skip to sidebar Skip to footer

फैक्ट चेकः फरीदाबाद में बिलाल मस्जिद गिराए जाने की सच्चाई

सोशल मीडिया पर एक मस्जिद के गिराए जाने की तस्वीर वायरल करके दावा किया जा रहा है कि यह हरियाणा के फरीदाबाद की बिलाल मस्जिद है। जिसे प्रशासन द्वारा अवैध बताकर गिराया जा रहा है। आसमां परवीन नाम की एक ट्वीटर यूजर ने इस वीडियो को 18 अगस्त 2021 को शेयर करते हुए लिखा- “फरीदाबाद, हरियाणा की वर्षों पुरानी बिलाल मस्जिद अवैध बताकर शहीद कर दी गई। बाकी अफगान नें तालिबान क्रूर और कट्टरपंथी है।”

फैक्ट चेकः

वायरल हो रहे इस फोटो के साथ दावे की सच्चाई की जांच की गई। जांच में सामने आय़ा कि फरीदाबाद के खीरी गांव में बिलाल मस्जिद तोड़ी गई थी। जिसका वीडियो फेसबुक पे पोस्ट किया गया है।

दरअसल सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद कई धार्मिक स्थलों को, जो सामुहिक जगहों या सरकारी जमीनों पर बनें थे, उन्हें हटाया गया था। इसी क्रम में प्रशासन ने बिलाल मस्जिद को भी हटाया था। हालांकि आसमा का पोस्ट सही है लेकिन उनके द्वारा आधी वीडियो शेयर की गयी है। पर ऐसे अधूरी वीडियो डालके सांप्रदायिकता फैलाना गलत है।